देहरादून में चल रहे बड़े सेक्स रैकेट का पर्दाफाश

sex-racket

देहरादून। एसओजी की टीम ने शुक्रवार शाम देहराखास और दून एन्क्लेव में छापेमारी कर सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए 11 महिलाओं के अलावा सात ब्रोकर दबोचे हैं। पकड़ी गई महिलाएं नेपाल, दिल्ली और पश्चिम बंगाल की रहने वाली हैं।

गिरफ्तार महिलाओं में तीन ऐसी हैं, जिनके संरक्षण में यह गोरखधंधा चल रहा था। तीनों संचालिकाएं दून की रहने वाली हैं। पुलिस को उम्मीद है कि इस नेटवर्क में शामिल अन्य लोगों के चेहरे भी जल्द ही बेनकाब कर दिए जाएंगे।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. सदानंद दाते ने बताया कि नए साल के जश्न को लेकर धंधेबाजों ने व्यापक तैयारी की थी। देश के कई हिस्सों से महिलाएं बुलाई गई थीं। सूचना के आधार पर एसओजी स्पेशल के दारोगा अशोक राठौड ने शुक्रवार शाम को पुलिस टीम के साथ पहले दून एन्कलेव में छापा मारा।

एन्क्लेव में एक कोठी से दो संचालिकाओं समेत सात महिलाओं और चार पुरुषों को गिरफ्तार किया गया। दोनों संचालिकाएं देवरानी-जेठानी हैं और गढ़ी कैंट देहरादून की रहने वाली हैं। ये महिलाएं दून एन्क्लेव में किराये का मकान लेकर धंधा चला रही थीं।

गिरफ्तार युवतियों में दो नेपाल, दो पश्चिमी बंगाल और एक दिल्ली की बताई जा रही हैं। ब्रोकरों की पहचान सिकंदर निवासी सरवट मुजफ्फरनगर, लव केश निवासी चंदेश्वर रोड ऋषिकेश और कुमार मगर व प्रकाश थापा निवासी काठमांडू नेपाल के रूप में हुई। दूसरी छापेमारी देहरा खास में हुई। यहां नेहरू ग्राम की दंपत्ति बारह हजार रुपये में किराए पर मकान लेकर सेक्स रैकेट चला रही थी। यहां से दंपति के अलावा तीन महिलाओं और दो पुरूषों को पकड़ा गया।

शादी-शुदा तीनों महिलाएं दून की ही रहने वाली हैं। पकड़े गए युवकों में वीरेन्द्र कुमार निवासी सहस्त्रधारा रोड और अनूप निवासी बल्लूपुर चौक शामिल हैं। पुलिस ने इनकी मोटर साइकिल भी जब्त कर ली है। रैकेट संचालिका का पति लाइट एंड साउंड का काम करता है। इस दौरान एसपी सिटी अजय सिंह और सीओ सिटी मनोज कत्याल मौजूद थे।

सेक्स रैकेट में पकड़ी गई तीन संचालिकाओं में से दो देवरानी और जेठानी हैं। इनमें से एक का पति फौजी है, जबकि दूसरे का पति प्राइवेट जॉब करता है। फौजी की पत्नी का कहना था कि पकड़ी गई युवतियां उसके बेटे की दोस्त हैं, जो देहरादून घूमने के लिए आई थी।

एसएसपी सदानंद दाते ने बताया कि सेक्स रैकेट के सरगना और संचालिकाओं के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगालकर इस गिरोह से जुड़े अन्य लोगों के चेहरे बेनकाब किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इसके तार देश के कई हिस्सों से जुडे़ हो सकते हैं। बता दें कि चार दिन पहले क्लेमेंटाउन पुलिस ने सेक्स रैकेट पकड़ा था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button