IPL
IPL

Cooch Behar हिंसा को लेकर शाह ने बताया ममता को जिम्मेदार

पश्चिम बंगाल में कूचबिहार के सितलकुची में 4 लोगों की हत्या हुई थी जिसका जिम्मेदार गृह मंत्री अमित शाह ने ममता बनर्जी को ठहराया है

कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) विधानसभा चुनाव में जीत को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) और तृणमूल कांग्रेस (TMC) के बीच कांटे की टक्कर है। पक्ष और विपक्ष के नेता एक-दूसरे सियासी निशाना साधने में लगे हुए है। पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में चुनाव हो रहा है जिसके चौथे चरण तक का मतदान संपन्न हो चुका है। 17 अप्रैल को  पांचवें चरण का मतदान होगा। इसी बीच गृह मंत्री और बीजेपी नेता अमित शाह (Amit Shah) ने बंगाल के शांतिपुर में रोड शो किया है।

कूचबिहार में 4 लोगों कि हत्या

पश्चिम बंगाल के शांतिपुर (Shantipur) में गृह मंत्री अमित शाह ने चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने बंगाल कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर कूचबिहार के सितलकुची में 4 लोगों कि हत्या को लेकर जमकर निशाना साधा। अमित शाह ने कहा कि बंगाल चुनाव के चौथे चरण में कल एक दुखद घटना हुई। जिस प्रकार से इस घटना का राजनीतिकरण किया जा रहा है ये बहुत दुखद है। मैंने ममता दीदी के बयान देखे हैं, उसी बूथ पर सुबह आनंद बर्मन की गुंडों द्वारा हत्या कर दी गई ताकि वहां पर मतदान न हो और CISF के हथियार लूटने की कोशिश की।

ममता दीदी सिर्फ चार लोगों को श्रद्धांजलि देती हैं, उनको आनंद बर्मन की मौत की नहीं पड़ी है। मृत्य में भी तुष्टिकरण और वोट की राजनीति करना, ममता दीदी ने बंगाल की राजनीति को कितना नीचे​ गिराया है, ये इसका एक उदाहरण है। उसी सीतलकुची सीट पर ममता दीदी ने कुछ दिन पहले भाषण दिया था कि CAPF वाले आए तो उन्हें घेर लो, उन पर हमला करो। मैं ममता दीदी से पूछना चाहता हूँ कि क्या आपका वो भाषण उन 4 लोगों की मौत का जिम्मेदार नहीं है?

जानें पूरा मामला

10 अप्रैल को पश्चिम बंगाल (West Bengal) विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के मतदान के बीच कूचबिहार में हिंसा हुई। जिसमें 4 लोगों की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक स्थानीय लोगों के द्वारा हमला किए जाने के बाद CISF की ओर से गोलियां चलाई जिसमें लोगों की मौत हो गई। इस घटना पर CRPF ने साफ किया है कि गांव के लोगों ने CISF कर्मी पर हमला किया, राइफल ​छीनने और बूथ में घुसने की कोशिश की।

यह भी पढ़ेIPL 2021 : SRH भिड़ेगा KKR से, जानिये किसका पलड़ा रहेगा भारी और क्या कहते हैं आंकड़े

Related Articles

Back to top button