शाह ने ममता पर किया पलटवार, बोले- किस गृहयुद्ध की बात कर रहीं, स्पष्ट करें?

0

नई दिल्ली: असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) मुद्दे पर सियासत गर्माने लगी है। एनआरसी के जारी हुए इस ड्राफ्ट में प्रदेश के 2.89 करोड़ लोगों का नाम शामिल किया गया हैं। वहीं 40 लाख लोगों की नागरिकता संदिग्धता मानी जा रही है। जिसके बाद विपक्षी दलों ने बीजेपी पर निशाना साधा है। मंगलवार को भी टीएमसी चीफ और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी पर निशाना साधा था, जिसके बाद बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी पलटवार करते हुए ममता पर पलटवार किया है।

शाह बोले- कैसा गृहयुद्ध, ममता जी स्पष्ट करें

अमित शाह ने मीडिया से बातचीत करते हुए ममता बनर्जी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि राज्यसभा में हंगामा कर उन्हें बोलने नहीं दिया गया, इसलिए प्रेस कांफ्रेश करनी पड़ी। उन्होंने ममता बनर्जी पर हमला करते हुए कहा कि टीएमसी प्रमुख शरणार्थियों के नाम पर वोट बैंक पॉलेटिक्स खेल रही हैं, जबकि बीजेपी देश की सुरक्षा और नागरिकों के अधिकारों की बात कर रही है। शाह ने कहा कि वो ममता बनर्जी ने कहा है कि इस पर गृहयुद्ध छिड़ जाएगा। क्या गृहयुद्ध कितान भयावह होता है उन्हें नहीं पता। उन्हें यह स्पष्ट करना चाहिए कि वह किसकी बात कर रही हैं?

शाह ने कहा, देश की सुरक्षा पहली प्राथमिकता

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि देश की सुप्रीम कोर्ट के नियमों के तहत यह कार्यवाही की जा रही है। यह देश की सुरक्षा से जुड़ा मुद्दा है और देश की सुरक्षा पार्टी की पहली प्राथमिकता है। उन्होंने कांग्रेस पर भी हमला बोला और कहा कि शरणार्थियों के मुद्दे पर राहुल गांधी को अपनी राय स्पष्ट करनी चाहिए। शाह ने कहा कि एनआरसी को कांग्रेस ने लागू नहीं किया क्योंकि उन्हें वोटबैंक की राजनीति करनी थी। इस मुद्दे पर कांग्रेस कभी कुछ कहती है तो कभी कुछ। शाह ने कहा कि भाजपा और बीजद के अलावा किसी भी पार्टी ने यह कहना उचित नहीं समझा है कि हमारे देश में घुसपैठियों का कोई स्थान नहीं है।

क्या बोलीं थी ममता बनर्जी?

आपको बता दें कि असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर का दूसरा ड्राफ्ट जारी होने के बाद बीजेपी के एक नेता ने पश्चिम बंगाल में भी इसे लागू करने की बात कही थी। जिसके बाद ममता बनर्जी ने चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर बंगाल में एनआरसी थोपने की कोशिश की गई तो गृहयुद्ध जैसे हालात बन जाएंगे और खून खराबा होगा। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा था कि बीजेपी लोगों को बांटने की कोशिश कर रही है जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।

loading...
शेयर करें