शाहबाज शरीफ ने चुनाव परिणाम मानने से किया इनकार, कहा- 30 साल में नहीं देखी ऐसी डरावनी स्थिति

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के भाई और पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ ने चुनाव आयोग पर आम चुनाव के परिणामों में हेराफेरी का आरोप लगाया है। यही नहीं उन्होंने इसे मानने से इनकार कर दिया है। उनका यह बयान शुरुआती रूझान में इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) को मिली बढ़त के बाद आया है। पीएमएल (एन) अध्यक्ष ने कहा है कि अपने 30 साल के राजनीतिक करियर में उन्होंने इस तरह की डरावनी परिस्थिति नहीं देखी थी।

शाहबाज शरीफ ने लाहौर में गुरुवार सुबह एक प्रेस कांफ्रेस की। इसच दौरान उन्होंने  चुनाव में धांधली के खिलाफ प्रदर्शन के संकेत देते कहा, ‘पीपीपी सहित पांच अन्य पार्टियों ने चुनाव में धांधली का मुद्दा उठाया है। उनसे संपर्क करने के बाद मैं आगे के कदम की घोषणा करूंगा। पाकिस्तान का आज बहुत नुकसान हुआ है। हम इस अन्याय के खिलाफ लड़ेंगे और सभी विकल्प का इस्तेमाल करेंगे।’

30 साल के राजनीतिक करियर की सबसे खराब स्थिति

पीएमएल (एन) अध्यक्ष ने कहा कि मैने अपने 30 साल के राजनीतिक करियर में ऐसी भयावह स्थिति नहीं देखी थी। पाकिस्तान के इतिहास का यह सबसे बद्दतर चुनाव था। शरीफ ने कहा कि जहां पीएमएल एन के उम्मीदवार जीत रहे थे, वहां पर चुनाव का परिणाम रोक दिया गया है, हम यह अन्याय नहीं बर्दाश्त नहीं करेंगे।

ये हैं अब तक के रुझान के नतीजे

इससे पहले अब के आए रुझानों में इमरान खान की पार्टी पीटीआई 119 सीटों पर आगे है। वहीं शाहबाज शरीफ की पीएमएल (एन) 56 सीटों पर बढ़त बना चुकी है। वहीं बिलावल भुट्टो की पीपीपी 34 सीटों पर आगे चल रही है। इसके अलावा 58 सीटों पर अन्य उम्मीदवार आगे चल रहे हैं।

गौरतलब हो कि कुल 272 सीटों में 267 सीटों के रुझान अबतक सामने आए हैं। PML(N) के शहबाज शरीफ, PPP के बिलावल भुट्टो, MMA के फजल उर रहमान, जमात ए इस्लामी के सिराज उल हक अपनी-अपनी सीट पर चुनाव हार गए हैं।

Related Articles