जम्मू एवं कश्मीर में शहीद बीएसएफ का जवान, पार्थिव शरीर पहुंचा पैतृक गांव

0

लखनऊ: जम्मू एवं कश्मीर में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम उल्लंघन में शहीद हुए सीमा सुरक्षाबल (बीएसएफ) के जवान का शव सोमवार को उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले स्थित उनके पैतृक गांव लाया गया। जम्मू एवं कश्मीर के अखनूर सेक्टर में 33वीं बटालियन में एडिशनल सबइंस्पेक्टर के पद पर तैनात सत्यनारायण यादव के शव के अंतिम दर्शन के लिए हजारों लोगों की भीड़ जुटी।

जम्मू एवं कश्मीररविवार को परगवाल सेक्टर में पाकिस्तान रेंजर्स द्वारा गोलीबारी में नारायण यादव शहीद हो गए थे। सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने शहीद के परिवार को 25 लाख रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है। वहीं, सत्यनारायण यादव की मौत की खबर सुनकर उनक एक रिश्तेदार की हार्ट अटैक से मौत हो गई।

loading...
शेयर करें