शाहरुख़ खान का आज जन्मदिन, जानिए इनके फ़िल्मी करियर के बारे में 

वर्ष 2004 में शाहरूख ने ‘रेडचिली इंटरटेनमेंट’ कंपनी का भी निर्माण किया।

मुंबई: वर्ष 1999 में शाहरूख खान ने फिल्म निर्माण के क्षेत्र में भी कदम रख दिया और अभिनेत्री जूही चावला के साथ मिलकर ‘ड्रीम्स अनलिमिटेड’ बैनर की स्थापना की। इस बैनर के तहत सबसे पहले शाहरूख खान ने ‘फिर भी दिल है हिंदुस्तानी’ का निर्माण किया। दुर्भाग्य से अच्छी पटकथा और अभिनय के बाद भी फिल्म टिकट खिड़की पर असफल हो गयी। बाद में इसी बैनर तले शाहरूख खान ने अपनी महत्वाकांक्षी फिल्म ‘अशोका’ बनायी लेकिन इसे भी दर्शकों ने बुरी तरह से नकार दिया। हालांकि, उनके बैनर तले बनी तीसरी फिल्म ‘चलते चलते’ सुपरहिट साबित हुयी।

वर्ष 2004 में शाहरूख ने ‘रेडचिली इंटरटेनमेंट’ कंपनी का भी निर्माण किया और उसके बैनर तले ‘मैं हूं ना’ का निर्माण किया जो टिकट खिड़की पर सुपरहिट साबित हुयी। बाद मे इसके बैनर तले उन्होंने पहेली, काल, ओम शांति ओम, बिल्लू बार्बर, चेन्नई एक्सप्रेस, हैप्पी न्यू इयर और दिलवाले जैसी कई फिल्मों का भी निर्माण किया।

वर्ष 2007 शाहरूख के कैरियर का महत्वपूर्ण मोड़ साबित हुआ जब लंदन के सप्रसिद्ध म्यूजियम मैडम तुसाद में उनकी मोम की प्रतिमा लगायी गयी। उसी साल शाहरूख ने एक बार फिर छोटे पर्दे की ओर रूख किया और स्टार प्लस के सुप्रसिद्ध शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के तीसरे सीजन में होस्ट की भूमिका निभाकर दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया।

शाहरूख अपने सिने कैरियर में आठ बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के फिल्म फेयर पुरस्कार से नवाजे जा चुके हैं। शाहरूख के सिने कैरियर में उनकी जोड़ी अभिनेत्री काजोल के साथ खूब जमी। अपनी मेहनत और लगन के बलबूते शाहरूख अन्य अभिनेताओं से काफी दूर निकल चुके हैं और आज किसी फिल्म में उनका होना ही सफलता की गारंटी माना जाता है।

इसे भी पढ़े: बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान ने वर्चुअल पार्टी के जारिए इस तरह मनाया अपना ख़ास दिन

Related Articles

Back to top button