कांग्रेस का प्रचार करने गयी शकीना ने तारा सिंह की पार्टी को किया सपोर्ट, मच गया हल्ला

2019 के इस आम चुनाव में इस बार मानो ऐसा लग रहा है जैसे फ़िल्मी सितारों की बाढ़ आ गयी हो| इस मामले में बात करते समय किसी एक पार्टी के उपर टिपण्णी करना इसलिए उचित नहीं क्युकी की लगभग सभी बड़ी पार्टियों में फ़िल्मी सितारे जरुर हैं|

इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए बात करतें हैं बालीवूड के सितारे और शोले वाले वीरू के बेटे संन्नी देओल की जो 23  अप्रैल को बीजेपी में शामिल हुयें है| बीजेपी के आला कमान ने उन्हें राजनीती में स्व. विनोद खन्ना की विरासत माने जाने  वाली सीट यानि गुरुदासपुर संसदीय क्षेत्र की कमान सौपी है |

विनोद खन्ना के अलावा गुरदासपुर में नहीं जीता कोई भाजपाई

यूं तो बीजेपी की नींव ही साल 1980 में पड़ी| इस साल लोकसभा चुनाव भी हुए| लेकिन तब पंजाब में बीजेपी कोई दमदार उम्मीदवार तलाश नहीं पाई| लेकिन साल 1985 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के प्रत्याशी बलदेव प्रकाश दूसरे स्‍थान पर रहे| इसके बाद से सभी लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने इस सीट के लिए पूरा दमखम लगाया| लेकिन बीजेपी यह सीट नहीं जीत पाई|

साल 1998 में पहली बार विनोद खन्ना ने गुरदासपुर में कदम रखा और उन्होंने कांग्रेस की दिग्गज नेता सुखबंस कौर भिंडर को हरा दिया| भिंडर गुरदासपुर को लगातार 5 बार 1980, 1985, 1989, 1992 और 1996 को जीत चुकी थी| लेकिन विनोद खन्ना यहां पहली बार कमल खिलाने में कामयाब हुए|

विनोद खन्ना बस एक बार हुए थे परास्त फिर कर ली थी वापसी
गुरदासपुर में विनोद खन्ना के उदय के बाद बस साल 2009 के आम चुनाव में बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी थी| इस चुनाव में कांग्रेस के प्रताप सिंह बाजवा ने विनोद को हरा दिया था| लेकिन साल 2014 के चुनाव में विनोद खन्ना एक बार फिर से इस सीट को जीतकर यह साबित कर दिया था उनके जीते जी इस सीट पर बीजेपी का झंडा नहीं झुकेगा|

अब बात करते है बॉलीवुड एक्ट्रेस अमीषा पटेल की जो गुजरात में गयी तो थी कांग्रेस का प्रचार करने लेकिन जब उन्होंने मीडिया से बातचीत की तो भाजपा की तारीफ कर दी। दरअसल मीडिया से बातचीत में अमीषा ने गुजरात मॉडल की तारीफ की और कहा- ‘गुजरात इंडिया का एक बहुत ही जरूरी राज्य है। जिस तरह की प्रगति और उन्नति गुजरात में हुई है, वह पूरे देश के लिए एक उदाहरण है। ऐसे में अगर हर राज्य ऐसा हो तो भारत जानें कहां पहुंच जाए।

चूंकि गुजरात मॉडल भाजपा की देन है। ऐसे में अनजाने में ही सही पर अमीषा भाजपा की तारीफ कर गईं। बता दें कि भाजपा की ओर से इस सीट पर महिला प्रत्याशी रंजन बेन हैं तो वहीं कांग्रेस की ओर प्रशांत पटेल मैदान में हैं। ये भी बता दें कि इस सीट पर पांचवीं बार भाजपा की महिला और कांग्रेस के पुरुष प्रत्याशी के बीच जंग होगी। अब तक यहां से चार बार महिला प्रत्याशी की जीत हो चुकी है। इस घटना बाद लोगो ने सोशल मीडिया पर लोगो का मिशन-ए-ट्रोल जोरो पर है| उसी मिशन का एक हिस्सा इस खबर की हेडलाइन “कांग्रेस का प्रचार करने गयी शकीना ने तारा सिंह की पार्टी को किया सपोर्ट है”|

Related Articles

Back to top button