देश की राजनीति में 11 साल बाद देखने को मिला ऐसा नज़ारा – पीएम मोदी के उड़े होश, राहुल हुए खुश

0

नई दिल्ली। राजनीति में कब क्या हो जाए कुछ कहा नहीं जा सकता। लाभ पाने के लिए कोई भी नेता किसी दूसरी खेते में चला जाए ये तो राजनीति में आम बात है। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले एक ऐसा नजारा देखने को मिला जो 11 सालों से किसी ने नहीं देखा। पुणे के बीएमसीसी ग्राउंड में महाराष्ट्र के दो दिग्गज नेता एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार और एमएनएस चीफ राज ठाकरे 11 साल बाद एक ही मंच पर आमने-सामने दिखे।

राज ठाकरे और शरद पवार का इंटरव्यू लिया

राज ठाकरे और शरद पवार का इंटरव्यू लिया। पुणे में हुए इस इंटरव्यू में लगभग 5 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए। विश्व मराठी अकादमी के इस कार्यक्रम के दौरान राजनीति में 50 साल पूरे करने वाले शरद पवार को सम्मानित किया गया। इंटरव्यू के दौरान पवार ने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कई मुद्दों पर सरकार को घेरा।

पीएम पर निशाना, राहुल की तारीफ

शरद पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें पद की गरिमा का ध्यान रखते हुए बयान देने चाहिए। हाल ही में संसद में पीएम की ओर से नेहरू और गांधी परिवार पर पीएम की ओर से दिए गए बयान पर विरोध जताते हुए कहा कि ये सही नहीं है कि नेहरू ने देश निर्माण में कोई भूमिका नहीं निभाई। साथ ही उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तारीफ भी की। पवार ने कहा कि कांग्रेस बुरे दौर से गुजर रही है, लेकिन यह भी सच है कि बीजेपी को टक्कर देने की हिम्मत इस देश में कांग्रेस के पास ही है। राहुल गांधी के हाथों में कमान देना सही फैसला है और वे कड़ी मेहनत भी कर रहे हैं।

2019 के लिए बन रहे हैं नए समीकरण

इस कार्यक्रम में खास बात ये रही कि राज ठाकरे ने एक पत्रकार की तरह शरद पवार का इंटरव्यू लिया और देश और महाराष्ट्र के मुद्दे पर तमाम बात की। इस इंटरव्यू के दौरान दोनों के बीच बेहद रोचक बातें हुईं और मोदी सरकार को घेरते हुए सरकार के ऊपर सवाल भी उठाए गए। कार्यक्रम में जिस तरह महाराष्ट्र के विपक्षी दल एनसीपी और एमएनएस के शीर्ष नेताओं ने मिलकर पीएम मोदी को घेरने की कोशिश की उसे देखकर महाराष्ट्र के राजनीतिक समीकरण में जल्द ही एक बड़े बदलाव की उम्मीद की जा रही है।

loading...
शेयर करें