शार्दुल ठाकुर ने कहा, ‘हमारी योजना आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को थकाने की थी’

स्पोर्टस डेस्क: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों का चौथा और आखिरी मुकाबला ब्रिस्बेन में खेला जा रहा है। चौथे टेस्ट मैच के तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में बिना विकेट गंवाए 21 रन बनाए हैं। ऑस्ट्रेलिया ने 33 रनों की बढ़त की मदद से 54 रन बना लिए हैं। भारत की पहली पारी में शार्दुल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने बेहतरीन पारी खेली।

मैच के बाद शार्दुल ठाकुर ने कहा, “हम स्कोर बोर्ड की तरफ नहीं देख रहे थे। हमारी योजना विकेट पर कुछ समय बिताने की थी। हम जानते थे कि उनके गेंदबाज थक रहे थे और यह पहले पहले घंटे की बात थी। इसलिए हमारी योजना थी कि अगर हम उनके गेंदबाजों को और थकाते हैं तो हम मैच में बने रहेंगे। इसलिए हमारे लिए यह जरूरी था कि हम उन्हें थकाएं और कमजोर गेंदों का फायदा उठाएं।”

शार्दुल ठाकुर ने कहा, “जब हम क्रीज पर नए थे तो हम डिफेंड करने की कोशिश कर रहे थे। जैसे जैसे हमारी साझेदारी बड़ी होती हो गई तो हमने शॉट खेलना शुरू कर दिया। हमें पता था कि गाबा में उछाल है और अगर गेंदबाज अपनी लाइन और लैंथ से भटकता है तो हम खराब गेंद पर शॉट खेल सकते हैं।”

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 369 रनों पर समेट दिया था और इस लिहाज से ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में केवल 33 रनों की ही बढ़त मिल पाई। ऑस्ट्रेलिया ने इसके जवाब में तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के 21 रन बना लिए हैं और उसे अब तक 54 रनों की बढ़त हासिल हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: IND vs AUS: 336 पर सिमटी टीम इंडिया, ठाकुर और सुंदर ने तोड़ा 30 साल पुराना रिकॉर्ड

Related Articles