Covaxin पर राजनीति: मंजूरी पर शशि थरूर ने खड़े किए सवाल

नई दिल्ली: देश में DCGI के द्वारा कोवैक्सीन (Covaxin) को दी गई मंजूरी को लेकर अब राजनीति शुरु हो गई है। एक तरफ जहां कांग्रेस के नेचा वैक्सीन को फ्री में देने की बात कर रहे हैं। तो वहीं दूसरी सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव वैक्सीन नहीं लगवाने की बात कह रहे हैं। इसी को लेकर पक्ष और विपक्ष में बहसबाजी जारी है। हमेशा चर्चा में बने रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ के आपात इस्तेमाल को भारतीय औषधि नियंत्रक की ओर से दी गई मंजूरी को अधूरा फैसला बताते हुए चिंता जाहिर की है।

कांग्रेस नेता शशि थरुर ने ट्वीट कर कहा, “कोवैक्सीन ने परीक्षण का तीसरा चरण पूरा नहीं किया है। इसकी मंजूरी अपरिपक्व निर्णय है और खतरा हो सकता है। डॉ. हर्षवर्धन, कृपया स्पष्ट करें।”

उन्होंने कहा कि ड्रग नियामक की सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने एक जनवरी को कोवैक्सीन के आपात इस्तेमाल की अनुशंसा से इंकार किया था, लेकिन ‘कोवैक्सीन’ के साथ ही सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ‘कोविशील्ड’ के आपात इस्तेमाल की सिफारिश को मंजूरी दे दी गई है।

शशि थरुर ने कहा, “कोवैक्सीन के इस्तेमाल को उसके परीक्षण पूरे होने तक टालना चाहिए। इस बीच भारत एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के साथ टीकाकरण शुरू कर सकता है।”

Related Articles