शी चिनफिंग ने दूसरे कार्यकाल में सेना को किया अलर्ट, युद्ध से बने हालात

0

बीजिंग। सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी चीन ने दूसरी बार शी चिनफिंग को देश का राष्‍ट्रपति नियुक्‍त किया है। साथ ही उन्‍हें इस बार पहले से ज्‍यादा ताकत भी है। इस सत्‍ता में शी को कोई भी किसी प्रकार का फैसला लेने से कोई नहीं रोक पायेगा। 5 साल दोबारा कुर्सी पर काबिज होने के बाद दुनिया की सबसे बड़ी अपनी सेना को युद्ध जीतने के लिए तैयार रहने को कहा। शी का निर्णय भारत के लिए समस्‍या भी पैदा कर सकता है। वो इस लिहाज से भी कि भारत का सबसे मजबूत पड़ोसी चीन ही है।

इस सप्ताह हुई कांग्रेस में शी के सिद्धांतों को संविधान में शामिल करने को भी मंजूरी दी गयी। इस प्रकार की चीन में उपलब्‍धी हासिल करने वाले तीसरे नेता बने है। चीन का यह गौरव प्राप्‍त करने वाले आधुनिक चीन के संस्थापक अध्यक्ष माओ त्से तुंग के बाद होंगे। वहीं आपकों बता दें कि अपने दूसरे कार्यकाल में वो चीन की सम्राज्‍यवादी नीति को बढ़ावा देने पर पहल कर रहे हैं

यह भी पढ़े-  सऊदी सरकार ने की मक्‍का छत को बदलने की तैयारी, उठने लगे विरोध के सुर

इसी नीति पर गौर करते हुए शी ने मीटिंग में मिलिटरी में भी पार्टी के विचारों पर अम्‍ल करने का सुझाव दिया है। साथ ही कहा है कि दुनियां इस समय एक ऐसे मोड़ पर आकर खड़ा है, जहां पर कभी भी कुछ हो सकता है। इसलिए चीन को भी युद्घ के लिए तैयार रहना चाहिए। वहीं चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता रेन गुओक्विंग ने कि शी के प्लान को मिलिटरी में पूरी तरह लागू किया जाएगा। जिससे विश्‍व स्‍तरीय सेना को बदला जायेगा।

loading...
शेयर करें