मंदसौर रेप मामले पर कांपे शिवराज, बोले- दरिंदगी की इंतेहा, बख्शे नहीं जाएंगे आरोपी

नई दिल्ली। मध्य प्रद्रेश के मंदसौर में सात साल की बच्ची के साथ जो हैवानियत की घटना हुई, उसने सभी को हिला कर रख दिया है। इस घटना को दिल्ली के निर्भया कांड से कम नहीं देखा जा रहा है। बच्ची के शरीर पर जख्म और प्राइवेट पार्ट खून से लथपथ मिला। मामले को संजीदगी से लेते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि ‘यह घटना दरिंदगी की इंतेहा है, हम आरोपियों को फांसी की सजा दिलवाएंगे।’

चोकसी को लेकर ईडी ने किया बड़ा खुलासा, फर्जी विदेशी कंपनियों…

मंदसौर रेप मामला

खबरों के मुताबिक़ सात साल की बच्ची को अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म किया गया। उसके पूरे शरीर पर गंभीर चोटों के निशान हैं। बच्ची की हालत को देखते हुए डॉक्टरों को उसकी आंत काटनी पड़ी और बाहर की तरफ एक रास्ता बनाकर उसके प्राइवेट पार्ट को ऑपरेट किया गया। फिलहाल बच्ची इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती है, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

अमेरिका : न्यूज पेपर के ऑफिस में अंधाधुंध फायरिंग, 5 की…

मामले में पुलिस ने दूसरे आरोपी आसिफ को भी गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि अभीतक पुलिस की तरफ से गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की गई है।

बता दें बच्ची रोज की तरह सुबह स्कूल के निकली थी, लेकिन जब शाम को उसके दादा लेने के लिए स्कूल पहुंचे तो वो नहीं मिली। काफी खोजबीन के बाद बच्ची नहीं मिली तो उसके गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई।

जब पुलिस ने छानबीन शुरू की तो मंदसौर बस स्टैंड के पीछे झाड़ियों में बच्ची अधमरी हालत में मिली। बच्ची बुरी तरह घायल थी उसके शरीर पर जगह जगह झाख्म में गहरे निशान थे। बच्ची बोलने की हालत में भी नहीं थी।

पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि इरफान स्कूल से बच्ची को अपने साथ ले गया था। पूछताछ में इरफान ने अपना अपराध कबूल करते हुए बताया कि बच्ची का अपहरण और उसके साथ बलात्कार करने के बाद उसका गला रेत कर हत्या करने की भी कोशिश की। मेडिकल रिपोर्ट में बच्ची के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है।

Related Articles