शिवराज ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- कांग्रेस ने किया क्या है, जो इन्हें जनता वोट दें

चौहान जिले के जौरा विधानसभा के सती मैया और सुमावली विधानसभा के जखोरा में जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान उनके साथ केन्द्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद रहे. मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव के समय तो कांग्रेस के नेता वोट मांगने के लिए जनता के पास आ जाते हैं,

मुरैना: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि इनकी सरकारों ने देश-प्रदेश के लिए ऐसे कौन से काम किए हैं, जो जनता इन्हें वोट देगी.

चौहान जिले के जौरा विधानसभा के सती मैया और सुमावली विधानसभा के जखोरा में जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान उनके साथ केन्द्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद रहे. मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव के समय तो कांग्रेस के नेता वोट मांगने के लिए जनता के पास आ जाते हैं, लेकिन चुनाव जीतने के बाद इनका पता नहीं चलता. चंबल में बाढ़ आई तो कांग्रेस नेता नहीं आए, लेकिन वोट मांगने अब बार-बार आ रहे हैं.

चौहान ने कहा कि कांग्रेस ने वर्ष 2003 से पहले भी प्रदेश को बंटाढार बना दिया था तो रही कसर 15 माह में पूरी कर दी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं को बताना चाहिए की उनकी सरकार जब प्रदेश में थी, तो उन्होंने जनता को क्यों धोखा दिया. किसानों के साथ क्यों छलावा किया. माताओं-बहनों, गरीबों, बुजुर्गों की योजनाओं को क्यों बंद कर दिया. आखिरकार क्या गलती थी जनता की, जिनके साथ ऐसा छलावा किया.

उन्होंने कहा कि एक सरकार भारतीय जनता पार्टी की सरकार भी थी और है, जिसमें हमने प्रदेश को बंटाढार प्रदेश से खुशहाल और विकासशील प्रदेश बनाया है. हम समय काटने के लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी पर नहीं हैं. हम तो प्रदेश की जनता और प्रदेश के गरीब, किसानों की भलाई करने के लिए सरकार में आए हैं.

सभा को केन्द्रीय मंत्री तोमर ने भी संबोधित किया और कहा कि चुनाव में कांग्रेस के नेता जनता के बीच वोट मांगने जा रहे हैं, लेकिन वे उनकी सरकारों में किए गए कार्य ही नहीं बता पा रहे हैं. बताएंगे भी कैसे, क्योंकि उनकी सरकारों में यदि विकास कार्य हुए होते तो जनता को दिखते, लेकिन 2003 से पहले मध्यप्रदेश को बंटाढार प्रदेश बनाकर रखा हुआ था. उनके राज में ग्वालियर, मुरैना जैसे शहरों में बिजली के दर्शन नहीं हो पाते थे. अधोसंरचना के काम नहीं हुए. पुल, सड़कों का निर्माण नहीं हुआ, लेकिन आज मध्यप्रदेश में सड़कों का जाल बिछा हुआ है. गांव-गांव तक पक्की सड़कें पहुंच गईं हैं.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 55 वर्षों तक कांग्रेस ने शासन किया, लेकिन जो कार्य 55 वर्षों में नहीं हुए वे कार्य 15 साल में किए गए हैं. प्रदेश के मुख्यमंत्री चौहान से किसी ने मांग नहीं की थी कि किसानों को 0 प्रतिशत ब्याज पर कर्ज दो, लेकिन उन्होंने किसानों को 0 प्रतिशत ब्याज पर कर्जा दिलाया. किसी ने भी मांग नहीं की थी कि गेहूं, धान पर बोनस दो, लेकिन उन्होंने बोनस भी दिया.

उन्होंने कहा कि किसानों को सम्मान निधि देने की बात आयी तो, उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 6 हजार किसान सम्मान निधि में 4 हजार रूपए जोड़कर किसान सम्मान निधि को 10 हजार कर दिया. उन्होंने कहा कि यह भाजपा की सरकार है, जिसका उद्देश्य ही सबका साथ-सबका विकास करना है. विकास कार्यों में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी.

इस दौरान सांसद जर्नादन मिश्रा, योगेश पाल गुप्ता, जयसिंह मरावी, प्रकाश त्यागी, राधामोहन शर्मा, आसाराम कुशवाह, दुर्गालाल विजय, दिव्यराज सिंह, सूबेदार सिंह सिकरवार, ब्रजेश बसंल, केपी त्रिपाठी, सरला रावत, लाखन सिंह राणा, रामलखन धाकड़, सेवाराम धाकड़ सहित पदाधिकारी, कार्यकर्ता एवं बड़ी संख्या में आमजन मौजूद रहे.

यह भी पढ़े: बिहार में इस मुस्लिम संघटन ने JDU-BJP गठबंधन को दिया समर्थनसमर्थन

Related Articles

Back to top button