कांग्रेस को झटका, जितिन प्रसाद BJP में शामिल होने के बाद कहीं ये बात

कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद बीजेपी में शामिल होने के बाद बोले- मेरा कांग्रेस पार्टी से 3 पीढ़ियों का साथ रहा है। मैंने ये महत्वपूर्ण निर्णय बहुत सोच, विचार और मंथन के बाद लिया है

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद (Jitin Prasad) बीजेपी में शामिल होने के बाद BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी.नड्डा से मुलाकात की है। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल भी मौजूद रहे।

भाजपा में शामिल होने के बाद जितिन प्रसाद ने बोला कि, मेरा कांग्रेस पार्टी से 3 पीढ़ियों का साथ रहा है। मैंने ये महत्वपूर्ण निर्णय बहुत सोच, विचार और मंथन के बाद लिया है। आज सवाल ये नहीं है कि मैं किस पार्टी को छोड़कर आ रहा हूं बल्कि सवाल ये है कि मैं किस पार्टी में जा रहा हूं और क्यों जा रहा हूं।

जितिन प्रसाद ने कहा मैंने पिछले 8-10 सालों में ये महसूस किया है कि आज देश में अगर कोई असली मायने में संस्थागत राजनीतिक दल है तो BJP है। बाकी दल तो व्यक्ति विशेष और क्षेत्र के हो गए मगर राष्ट्रीय दल के नाम पर भारत में कोई दल है तो भाजपा है।

जितिन प्रसाद ने बोला हमारा देश जिन चुनौतियों का सामना कर रहा है उसके लिए आज देशहित में कोई दल और कोई नेता सबसे उपयुक्त और मजबूती से खड़ा है तो वो BJP और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं।

राजनीतिक कैरियर

2001 जितिन प्रसाद ने IYC भारतीय युवा कांग्रेस के साथ एक महासचिव के रूप में अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत की। 2004 में उन्होंने अपना पहला चुनाव जीता और 14 वीं लोकसभा में अपने गृहनगर शाहजहांपुर, यूपी से संसद सदस्य चुने गए। संसद सदस्य के रूप में अपने पहले कार्यकाल में जितिन प्रसाद को इस्पात राज्य मंत्री के रूप में शामिल किया गया था और वह कैबिनेट में सबसे कम उम्र के मंत्री थे। 2009 में उन्होंने धौरारा से चुनाव लड़ा और जीता।

लखीमपुर खीरी जिले के मीटर गेज रेलवे ट्रैक को ब्रॉड गेज में बदलने के उनके वादे को 2009 के संसदीय चुनावों के दौरान उनकी उम्मीदवारी के लिए बड़ा समर्थन मिला। उन्होंने 2008 में केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान अपने निर्वाचन क्षेत्र धौरहरा (लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र) में एक इस्पात कारखाने की आधारशिला रखी। 14 वीं लोकसभा के लिए जितिन ने याचिका समिति (सदस्य) के लिए पदों पर कार्य किया। वह 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की रेखा वर्मा से हार गए थे।

उन्हें वर्तमान में पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का महासचिव नियुक्त किया गया है। जिसके जितिन प्रसाद ने 9 जून 2021 को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए।

यह भी पढ़ेIND-NW Test Series के पहले न्यूज़ीलैंड की टेंशन बढीं, पहले Mitchell अब Williamson भी हुए Injured

Related Articles