डॉक्टर और एसटीएफ के बीच चली गोलियां, मुख्तार का शूटर अलीशेर मुठभेड़ में ढेर

लखनऊ: यूपी राजधानी लखनऊ में बुधवार की रात को शॉर्प शूटर अली शेर उर्फ डॉक्टर को एसटीएफ ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया। इसके अलावा उसके साथी कामरान को भी एनकाउंटर में मार दिया गया है। ये मुख्तार का शूटर अलीशेर अपने दाहिने हाथ कामरान के साथ पुराने लखनऊ के एक व्यापारी नेता की हत्या करने के इरादे से कार्बाइन और पिस्टल लेकर आया था। दावा किया जा रहा है कि वह इस नेता की पहले भी रेकी कर चुका है।

खबरों के मुताबिक, मुख्तार अंसारी के शॉर्प शूटर अली शेर उर्फ डॉक्टर को एसटीएफ ने मड़ियांव इलाके में हुए मुठभेड़ में ढेर कर दिया। एसटीएफ और बदमाशों के बीच कई राउंड गोलियां चलीं, जिसमें दो बदमाश घायल हो गए। घायलों में अली शेर भी था, जिसकी बाद में मौत हो गई।

मतृक बदमाश ने रांची में बीजेपी नेता जीतराम मुंडा की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके अलावा फरार चल रहे बदमाश अली शेर पर एक लाख रुपए का इनाम भी था। मुख्तार अंसारी गैंग (आईएस 0191) का शार्प शूट अली शेर उर्फ डॉक्टर पिछले कई वर्षों से पूर्वांचल में अपराध का पर्याय बना हुआ था, जो देश के विभिन्न राज्यो में घूम-घूम कर हत्या करता था।

दाहिने हाथ के साथ ढेर

अलीशेर अपने दाहिने हाथ कामरान के साथ पुराने लखनऊ के एक व्यापारी नेता की हत्या करने के इरादे से कार्बाइन और पिस्टल लेकर आया था। घैला चौकी से फैजुल्लागंज रोड पर एसटीएफ के साथ मुठभेड़ में घायल हो गए, जिन्हें तत्काल भाऊराव देवरस चिकित्सालय इलाज के लिया भेजा गया, जहां उपचार के दौरान दोनों की मौत हो गई।

कॉल डिटेल से चला पता

एसटीएफ ने यह दावा अलीशेर के मोबाइल की कॉल डिटेल और उसकी जेब से मिली डायरी के आधार पर किया है। हालांकि एसटीएफ व्यापारी नेता का नाम नहीं बता रही है लेकिन उन्हें सुरक्षा देने के लिये कमिनरेट पुलिस से कहा गया है।

आपराधिक इतिहास

आरोपी का आपराधिक इतिहासलखनऊ पुलिस
इन दोनों बदमाशों के पास से 1 कार्बाइन 30 एमएम, 2 पिस्टल, 1 देसी तमंचा और 1 मोटरसाइकिल बरामद हुई है, साथ ही भारी मात्रा में कारतूस भी जब्त किया गया है।

Related Articles