विधानसभा विस्फोटक मामला : सरकार को बदनाम करने की साजिश

0

लखनऊ। यूपी विधानसभा में मिले विस्फोटक के बाद हडकंप मचा हुआ। इस बारे में बात करते हुए कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि कुछ लोग नहीं चाहते कि उत्तर प्रदेश का विकास हो। यह ऐसे ही लोगों की साजिश का परिणाम है।

   श्रीकांत शर्मा

श्रीकांत शर्मा ने कहा कि ये बहुत बडी साजिश है…उत्तर प्रदेश को बदनाम करने की

श्रीकांत शर्मा ने कहा कि कुछ लोग नहीं चाहते कि उत्तर प्रदेश का विकास हो । कुछ ताकतें हैं जो उत्तर प्रदेश को विकास करते नहीं देखना चाहती।  उन्होंने कहा कि सरकार ने इस घटना को पूरी गंभीरता से लिया है। एनआईए (राष्ट्रीय जाँच एजेंसी) सहित पुलिस और अलग-अलग एजेंसियां इसकी जांच कर रही हैं।

श्रीकांत शर्मा ने कहा कि ये बहुत बडी साजिश है…उत्तर प्रदेश को बदनाम करने की…उत्तर प्रदेश सरकार को बदनाम करने की। ‘ उन्होंने कहा, ‘लेकिन हम ऐसी ताकतों के आगे झुकने वाले नहीं हैं। उत्तर प्रदेश के विकास के लिए सरकार आगे कदम बढाती रहेगी।

गौरतलब है कि बुधवार को यूपी विधानसभा में समाजवादी पार्टी के एक विधायक की सीट से मिला सफ़ेद पाउडर मिला था। जांच में खुलासा हुआ है कि वो पाउडर खतरनाक विस्फोटक था जिसका इस्तेमाल आतंकवादी करते हैं। इसके बाद से हडकंप मचा हुआ है। सीएम योगी ने विधानसभा सदन को इस बारे में जानकारी दी थी।

सीएम योगी ने सदम को बताया कि ये बड़ी आतंकी साजिश है। इसकी एनआईए से जांच करानी चाहिए। फॉरेंसिक लैब की रिपोर्ट में कहा गया है कि विधानसभा से मिला सफ़ेद पाउडर प्लास्टिक पीईटीएन है। इस रिपोर्ट के आने के बाद सुरक्षा का जायजा लेने और चर्चा करने के लिए बैठक बुलाई थी।

विधानमंडल में पाया गया विस्फोटक पीईटीएन है। एक्सपर्ट का कहना है कि डेटोनेटर होने के बाद ही ये विस्फोटक बम का रूप ले लेता है। इस खुलासे के बाद सुबह साढ़े दस बजे सीएम आदित्यनाथ योगी ने सुरक्षा को लेकर बैठक बुलाई है। इतनी सुरक्षा के बाद विधानसभा में विस्फोटक मिलना कई सवाल खड़े करता है।

loading...
शेयर करें