ओडीओपी के तहत यूपी के पांच और जिलों में खुलेंगे सिडबी के स्वालंबन केंद्र

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी) योजना के तहत पांच और जिलों में भारतीय लघु उद्योग विकास वैंक (सिडबी) के स्वालंबन केंद्र खुलेंगे। सिडबी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, सिवसुब्रमणियन रमण ने अपर मुख्य सचिव लघु उद्यम नवनीत सहगल से राजधानी लखनऊ में भेंट के दौरान यह एलान किया।

अंतरर्राष्ट्रीय युवा दिवस पर सप्ताह भर जारी रहने वाले कार्यक्रमों के तहत सिडबी ने स्वालंबन योजना के अनेक कदमों के बारे में जानकारी दी है। अपने उत्तर प्रदेश दौरे के दौरान सिडबी अध्यक्ष सिवसुब्रमणियन रमण ने कन्नौज में स्वालंबन स्वाभिमान परियोजना के तहत चल रहे सुगंध व स्वाद विकास केंद्र (एफएफडीसी) के प्रतिभागियों से मुलाकात भी की। यह परियोजना उत्तर प्रदेश माइक्रोफाइनेंस एसोसिएशन (यूपीएमए) और सिडबी के सहयोग से ओडीओपी योजना के चयनित जिलों कन्नौज और फिरोजाबाद में चलाई जा रही है।

ओडीओपी मिनी क्लस्टर स्थापित

इसके तहत कन्नौज व फिरोजोबाद में 100 युवा सहभागियों व शिल्पकारों को जिनमें मुख्यत महिलाएं हैं, को ओडीओपी मिनी क्लस्टर स्थापित कर कौशल प्रशिक्षण व बाजार विकसित करने के बारे में बताया जा रहा है। इस परियोजना के तहत 1000 से ज्यादा सूक्ष्म उद्यमियों व प्रवासियों के लिए आजीविका का आधार तैयार किया जाना है।

गुलाबजल व हवन सामाग्री तैयार करने का प्रशिक्षण

इस परियोजना में एफएफडीसी के प्रतिभागियों को कूड़े में फेंके गए फूलों से अगरबत्ती, धूपबत्ती, गुलाबजल व हवन सामाग्री तैयार करने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। अपने कन्नौज व फिरोजाबाद दौरे में सिडबी अध्यक्ष सिवसुब्रमणियन रमण ने परियोजना के लाभार्थियों को टूलकिट, प्रमाणपत्र व माइक्रोफाइनेंस संस्ताओं से ऋण का स्वीकृति पत्र भी सौंपा।

यूपी में ओडीओपी योजना

सिडबी अध्यक्ष ने यूपी में ओडीओपी योजना के तहत आने वाले पांच और जिलों में स्वालंबन स्वाभिमान केंद्र खोले जाने की घोषणा भी की। सिडबी ने हाल ही में राष्ट्रीय कौशल विकास विकास निगम (एनएसडीसी) के साथ गठजोड़ किया है जिसके तहत युवाओं के कौशल विकास की कक्षाएं यूपी की राजधानी लखनऊ में शुरु की गयी हैं।

Related Articles