पिता के निधन के बाद बोले सिराज, कहा- ‘सपना पूरा करना मेरा लक्ष्य’

सिडनी: भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज के लिए पिछले कुछ दिन काफी मुश्किल भरे रहे है। IPL में शानदार प्रदर्शन करने के बाद वह दुबई से ऑस्ट्रेलिया के दौरे के लिए रवाना हो गए थे और उन्हें इस दौरान टेस्ट टीम में भी शामिल कर लिया गया। लेकिन ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के कुछ दिन बाद ही उनके पिता का निधन हो गया। ऑस्ट्रेलिया में क्वारंटाइन के दिशा-निर्देशों के वजह से वह स्वदेश भी नहीं लौट सके और बाद में उन्होंने टीम के साथ रहने का ही निर्णय लिया।

सिराज ने मां से की बात

सिराज ने BCCI टीवी को बताया कि उनकी मां ने भी उनसे सीरीज छोड़ कर घर न आने के लिए कहा। उन्होंने कहा, “मैंने अपनी मां से बात की थी और उन्होंने भी मुझसे ऑस्ट्रेलिया रह कर देश के लिए खेलने के लिए कहा। मां ने मुझसे कहा कि मुझे अपने पिता का सपना पूरा करना है।’’

‘मेरे सबसे बड़े समर्थक थे’

उन्होंने कहा, “मेरे पिता मेरे सबसे बड़े समर्थक थे और उनका जाना मेरे लिए बहुत बड़ी क्षति है। उनका सपना था कि मैं देश के लिए खेलूं और देश का नाम रोशन करूं। अब से मेरा उद्देश्य सिर्फ उनके सपने को पूरा करना है। वह बेशक आज शारीरिक रूप से मेरे साथ नहीं है लेकिन वह हमेशा मेरी आत्मा में रहेंगे।’’

तेज गेंदबाज ने कहा, “जिस तरह से टीम के सभी सदस्यों ने इस समय मेरा समर्थन किया, मुझे बहुत अच्छा लगा। विराट भाई ने भी मुझसे मजबूत बने रहने को कहा और पिता के सपने को पूरा करने के लिए कहा। विराट भाई ने मुझसे कहा कि मुझे हिम्मत रखना बहुत जरुरी है। उनके सकारात्मक शब्दों से मुझे काफी अच्छा लगा।’’

भारतीय क्रिकेट टीम फिलहाल सिडनी में क्वारंटाइन में रह कर अभ्यास कर रही हैं। भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे की शुरुआत 27 नवंबर से होगी जब टीम अपना पहला वनडे मुकाबला खेलेगी। तीन वनडे मैचों के अलावा भारतीय टीम तीन टी-20 मुकाबले और चार टेस्ट मुकाबलों की सीरीज भी खेलेगी जो 17 दिसंबर से शुरू होगी।

यह भी पढ़ें: माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर को पिछाड़ दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बने एलन मस्क

Related Articles

Back to top button