जीजा के घर गई थी साली, ओमप्रकाश की बाग में पीपल के पेड़ में लटका मिला शव

कस्ता-खीरी: मितौली थाना क्षेत्र के गांव के रहने वाले राकेश की बेटी अपने जीजा के घर गई हुई थी। लेकिन खबर मिली कि गांव के बाहर एक पेड़ से शव लटकता पाया गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेजा गया है। किशोरी मंदबुद्धि बताई जा रही है।किशोरी का शव लटकते देख मौके पर तमाम ग्रामीण एकत्र हो गए।

मितौली थाना क्षेत्र के गांव डहर के रहने वाले राकेश मौर्य के चार बेटियां व एक बेटा सर्वेश है। दो बेटियों की शादी हो चुकी है। बड़ी बेटी पास के गांव ढखिया मदन थाना नीमगांव के अंकित को ब्याही है। राकेश की एक बेटी रिंकी (16) करीब एक माह पहले अपनी बड़ी बहन की ससुराल गई थी। तब से वह वहीं रह रही थी।

शनिवार सुबह गांव के पास ओमप्रकाश की बाग में रिंकी का शव पीपल के पेड़ में दुपट्टे से लटकता दिखा। खबर फैलते ही मौके पर काफी लोग जमा हो गए। नीमगांव थाना प्रभारी गजेंद्र सिंह ने बताया कि रिंकी की मानसिक हालत ठीक नहीं थी। मृतका की मां की तहरीर पर कार्रवाई की जा रही है। रिंकी के जीजा अंकित व भाई सर्वेश ने भी बताया कि रिंकी की दिमागी हालत ठीक नहीं थी। उसका इलाज चल रहा था।

मौके पर पहुंचे नीमगांव थाने के एसआई कमल किशोर सिंह ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेजा है। बताया जाता है कि रिंकी ने बीती चार अक्तूबर को 112 नंबर पर पुलिस को कॉल कर शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी परिजन शादी नहीं करने देना चाह रहे हैं। शनिवार को रिंकी का शव पेड़ से लटकते मिलने पर तरह-तरह की चर्चाओं ने जोर पकड़ लिया है।

Related Articles