IPL
IPL

सीतारमण ने केरल सरकार पर KIIFB को पूरे बजट का पैसा देने का लगाया आरोप

नई दिल्ली : केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने रविवार को केरल विधानसभा चुनाव (Kerala Assembly Elections) प्रचार के दौरान राज्य के बजट को लेकर पिनाराई विजयन (Pinarai Vijayan) की अगुवाई वाली सरकार पर तंज कसा और केरल के बुनियादी ढांचा निवेश कोष बोर्ड (KIIFB) को बजट का सारा पैसा देने का आरोप लगाया।

वित्त मंत्री ने कोच्चि में “विजय यात्रा” के दौरान कहा कि केरल का कौन सा बजट पेश किया गया था, जिसमें सारा पैसा केवल एक ही संगठन केआईआईएफबी को दे दिया गया। सीतारमण ने यह भी कहा कि केंद्रीय बजट में वे एक विशेष संगठन को सारा पैसा नहीं देते हैं।

भगवान के देश में कट्टरपंथियों का कब्ज़ा

केंद्रीय वित्त मंत्री ने कहा कि हम केंद्र सरकार में बजट बनाते हैं और सभी पैसे केवल एक संगठन को कभी नहीं देते हैं। सीतारमण ने कहा कि अगर ऐसा ही बजट बनेगा तो कोई आश्चर्य नहीं है कि केरल एक ऋण जाल में जा रहा है। उन्होंने कहा कि नियंत्रक और महालेखा परीक्षक ने भी इसकी आलोचना की है।

केरल में कानून व्यवस्था की स्थिति का उल्लेख करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि यहां जो कुछ भी हो रहा है यह राज्य में गंभीर चिंता का विषय है। सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने कहा कि केरल को हर कोई जानता है कि भगवान का अपना देश है। लेकिन जो कुछ भी यहां हो रहा है, वह गंभीर चिंता का कारण है। कोई कानून और व्यवस्था नहीं है। मैं केरल जैसे शांतिपूर्ण, सुंदर राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर चिंतित हूं।

इसे भी पढ़े: बैंकिंग सेवाओं में विस्तार के लिए सीएम योगी ने बड़ी संख्या में BC की नियुक्ति की

उन्होंने कहा कि मैं मुख्यमंत्री से पूछती हूं कि यह भगवान का अपना देश है या यह माकपा की हिंसक संस्कृति है। आप इसे कई वर्षों से बढ़ावा दे रहें हैं। मुझे यह कहने में डर लगता है कि भगवान का अपना देश अब धीरे-धीरे कट्टरपंथियों के चंगुल में जा रहा है।

Related Articles

Back to top button