उत्कल एक्सप्रेस के छह डिब्बे पटरी से उतरे, छह की मौत व 50 से ज्यादा घायल

0

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में खतौली रेलवे स्‍टेशन के पास शनिवार को एक बड़ा रेल हादसा हुआ है। दरअसल, पुरी से हरिद्वार जाने वाली उत्कल एक्सप्रेस के छह डिब्बे पटरी से उतर गए हैं। इस दुर्घटना में कई लोगों के घायल होने की सूचना मिल रही है। घटनास्‍थल पर तेजी से बचाव कार्य की शुरुआत कर दी गई है यह हादसा शाम करीब  शाम 5 बजकर 46 मिनट पर हुआ है।

ट्रेन के करीब दर्जन भर डिब्बे पटरी से उतरकर अगल-बगल के घरों और एक स्कूल में घुस गए और कई कोच एक दूसरे में घुस गए। ट्रेन में सफर कर रहे करीब आधा दर्जन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और 50 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। पटरी से उतरे डिब्बों में यात्री फंसे हुए हैं। जिन्हें निकालने के लिए डिब्बा काटने खातिर क्रेन बुलाई गई है।

सूचना मिलते ही अधिकारियों में हड़कंप मच गया। हादसे के बाद राहत टीमे पहुंच चुकी है और ऑपरेशन शुरू कर दिया है। घटनास्‍थल पर स्‍थानीय लोगों ने सबसे पहले पहुंचकर पीड़ितों की मदद करनी शुरू कर दी थी। हालांकि, अभी दुर्घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है।

पीड़ितों की मदद के लिए तेजी से काम किया जा रहा है। मुजफ्फरनगर जनपद में हुए इस हादसे के बाद सोशल मीडिया पर भी संदेशों की बाढ़ सी आ गई है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने भी ट्विटर के माध्यम से जानकारी दी है।

हादसे के बारे में उप्र के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने बताया, “उत्कल एक्सप्रेस के चार डिब्बे पटरी से उतरने की सूचना है। इसमें एक दो डिब्बे नजदीकी घरों में भी घुस गए हैं। सूचना के बाद ही तुरंत जिले के एसएसपी और जिलाधिकारी को मौके पर पहुंचने का आदेश दिया गया है।”

उन्होंने बताया, “अभी यह कह पाना मुश्किल है कि कितने लोग हताहत हुए हैं। हादसे कैसे हुआ इसकी जांच रेलवे की तरफ से की जाएगी। सभी सरकारी और निजी एंबुलेंस को जल्द से जल्द घटनास्थल पर ले जाने का आदेश दिया गया है।”

आपको बता दें कि यह ट्रेन पुरी से हरिद्वार जाती है। कलिंगा उत्कल एक्सप्रेस इस सफर में कई राज्यों से होकर गुजरती है। इनमें उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड और ओडिशा शामिल हैं। यह ट्रेन रोजाना रात 9 बजे पुरी से चलती है।

 

loading...
शेयर करें