हुमायूं के मकबरे में शुरू हुआ ‘स्मार्ट वॉटर एटीएम’

0

नई दिल्ली : भारत में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की चुनौती से पार पाने की दिशा में राष्ट्रीय राजधानी स्थित हुमायूं के मकबरे में ‘स्मार्ट वॉटर एटीएम’ का उद्घाटन किया गया। इस वॉटर एटीएम का उद्धघाटन संस्कृति मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने किया। पी-लो शुद्धपानीसेवा फाउंडेशन द्वारा लगाए गए इस वॉटर एटीएम का उद्घाटन परमार्थ निकेतन आश्रम के अध्यक्ष एवं आध्यात्मिक प्रमुख व भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के डीजी/एडीजी चिदानन्द सरस्वती की उपस्थिति में किया गया।

पी-लो शुद्धपानीसेवा फाउंडेशन ने हुमायूं के मकबरे के अलावा ताजमहल, सफदरजंग टॉम्ब और लाल किला समेत भारत के विभिन्न ऐतिहासिक स्थानों पर वॉटर एटीएम लगाए हैं।

इस पहल पर संस्कृति मंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा, “हुमायूं के मकबरे में पी-लो स्मार्ट वाटर एटीएम की पेशकश स्वच्छ भारत मिशन के समर्थन का प्रतीक है क्योंकि इससे प्लास्टिक बोतलों के इस्तेमाल में कमी लाने में भी मदद मिल रही है। इस पहल के साथ आगे बढ़ने और इस मिशन का प्रचार करने के प्रयास में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) और पी-लो को आगामी गर्मी के मौसम से पहले 100 आदर्श एएसआई स्मारकों और अधिक भीड़-भाड़ वाली जगहों पर ऐसे और स्मार्ट वाटर एटीएम लगाने चाहिए।”

पी-लो शुद्धपानीसेवा फाउंडेशन के सह-संस्थापक जतिन अहलावत ने कहा, “हुमायूं के मकबरे में पी-लो वाटर एटीएम लगने के पहले दिन स्थानीय लोगों और पर्यटकों को बड़ी तादाद में पानी के लिए लाइन में लगे देखना बेहद उत्साहजनक था और यह पी-लो की टीम द्वारा सुरक्षित और शुद्ध पेयजल मुहैया कराने की दिशा में एक अन्य महत्वपूर्ण उपलब्धि है।”

उन्होंने कहा, “हम पूरे भारत में कई और स्मार्ट वाटर एटीएम लगाने का सिलसिला बरकरार रखेंगे जिससे कि आम लोगों के लिए शुद्ध पेयजल तक आसानी से पहुंच सुनिश्चित हो सके।”

शेयर करें