तो क्या सलाखों के पीछे होंगे केजरीवाल-सिसोदिया, भारी पड़ा मुख्य सचिव से मारपीट का मामला!

नई दिल्ली। इन दिनों दिल्ली सरकार की मुसीबते कम होती नहीं नज़र आ रही है। हाल ही में 19 फरवरी को देर रात मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ मारपीट हुई। यह हमला तब हुआ जब उन्हें राशन कार्ड और कई मसलों पर बातचीत करने के लिए बुलाया गया था। खबरों की माने तो इस दौरान सीएम केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया भी मौजूद थे। कहा जा रहा उनकी वहां पर मौजूदगी आने वाले समय में उनके लिए मुश्किलें बढ़ा सकती हैं। यहां तक दोनों नेताओं के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने तक का मुकदमा चलाया जा सकता है।

मिली जानकारी के मुताबिक दिल्ली पुलिस केजरीवाल के साथ साथ आप पार्टी के 11 नेताओं के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने वाली है। कुछ हद तक बयानों और सबूतों के आधार पर चार्जशीट तैयार की जा चुकी है, जिसे जल्द ही अदालत में पेश किया जाएगा। अपने ऊपर लगे इन आरोपों को पार्टी शुरु से ही खारिज करती रही है। इसी के साथ सीएम से पूछताछ भी की गई थी और उनकी घर की तलाशी भी ली गई थी।

साथ ही कहा जा रहा है कि दोनों के लिए यह बहुत बड़ी मुसीबत हो सकती है, और यह ऐसा पहला मामला सामने आया है कि मुख्य सचिव के पद पर तैनात किसी वरिष्ठ अधिकारी के साथ ऐसी हरकत हुई हो । इसी के साथ मामले में राज्य के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के खिलाफ अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया गया हो। बता दें, इस मसले के बाद केंद्र और राज्य सरकार के बीच गंभीर घमासान होने की भी उम्मीद जताई जा रही है।

Related Articles