पूर्व MLA कुलदीप सिंह सेंगर को थोड़ी ‘राहत’, इस केस में हुए बरी

कोर्ट ने CBI की जांच के इसी परिणाम को बरकरार रखा

उन्नाव रेप पीड़िता और उसके परिवार के सदस्यों की 2019 दुर्घटना मामले में दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने सोमवार को भाजपा से निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह को बरी कर दिया है. केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) ने भी उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता संबंधी 2019 सड़क हादसा मामले में किसी भी तरह की साजिश से इनकार किया था. दरअसल, कोर्ट ने सीबीआई की जांच के इसी परिणाम को बरकरार रखा है.

2019 में दर्ज हुआ था केस

बता दें कि 2019 में दुष्कर्म पीड़िता, उसके परिवार के सदस्य और वकील एक कार में सवार थे, तभी रायबरेली में तेज गति से आ रहे एक ट्रक ने उन्हें टक्कर मार दी, जिसमें उसके दो रिश्तेदारों की मौत हो गयी और वह तथा उसका वकील गंभीर रूप से घायल हो गए.

साजिश का लगा था आरोप

इसके बाद बीजेपी के निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और नौ अन्य के खिलाफ हत्या का एक मामला दर्ज किया गया था. पीड़िता के परिवार ने दुर्घटना के पीछे ‘‘साजिश’’ का आरोप लगाते हुए एक शिकायत दर्ज कराई थी.

यह भी पढ़ें- UP चुनाव में BJP का युवाओं पर फोकस, योगी सरकार ने युवाओं के लिए बनाया ये प्लान

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles