गुजरात चुनाव में कुछ ऐसा कह गए बीजेपी नेता, मचा बवाल  

0

राजकोट। इन दिनों गुजरात चुनाव को लेकर देशभर में गर्मागर्मी का माहौल चल रहा है। सभी पार्टियां अपने-अपने प्रचार में जोर-शोर से लगी हुई हैं। इसी बीच एक के बाद एक विवादित बयानों के चलते सुर्ख़ियों में बने भाजपा सांसद परेश रावल एक बार फिर निशाने पर आ गए हैं। बीते दिनों शनिवार को एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कुछ ऐसा कह दिया कि लोग भड़क गए। फिर उन्हें अपना बयान बदलकर लोगों से माफ़ी मांगनी पड़ी।

यह भी पढ़ें, गुजरात चुनाव में कांग्रेस को अपनी एक गलती पड़ी भारी, आज मोदी इसका जमकर उठाएंगे फायदा

गुजरात चुनाव

दरअसल, हुआ कुछ यूं कि जब परेश रावल राजकोट स्थित रिंग रोड पर चुनावी कार्यक्रम के दौरान लोगों को संबोधित कर रहे थे तो उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने देश को एक किया था। ये राजा-रजवाड़े, जो बंदर थे उनको सही किया किया था, सीधा किया था। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल के बारे में ज्यादा कुछ तो नहीं लिखा है लेकिन, जेआरडी टाटा ने कहा था कि अगर सरदार पटेल देश के प्रधानमंत्री होते तो देश कहां पहुंच गया होता।

Image result for परेश रावल

परेश रावल ने आगे कहा कि जो लोग सरदार पटेल का अपमान कर रहे हैं उनके पास पटेल का बैनर नहीं है। कांग्रेस ने सरदार पटेल की मृत्यु के 30 साल बाद उन्हें भारत रत्न दिया था, लेकिन राजीव गांधी को उनकी मृत्यु के तुरंत बाद ही भारत रत्न दे दिया गया था।

उनके इस बयान को सुनते ही लोगों ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया। वहीँ, राजा-रजवाड़ों को बंदर कहे जाने पर भी लोगों ने उनका जमकर विरोध किया। हालांकि इसके बाद परेश रावल को अपनी सफाई देने के लिए मीडिया के सामने आना पड़ा।

प्रेस कांफ्रेंस बुलाकर उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि मैंने सरदार पटेल की भूमिका को निभाया है इसलिए मैं सरदार पटेल की बात इसलिए कर रहा हूं। मैंने उनके हावभाव का अभ्यास किया था। उनके बारे में काफी जानकारी हासिल की थी। उन्होंने कहा कि पटेल के बारे में ब्राह्मण का बेटा जितना जनता है उतना पटेल का बेटा भी उनके बारे में नहीं जनता होगा।

loading...
शेयर करें