बेटे ने किया प्रेम-विवाह तो परिवार को छोड़ना पड़ा गांव, जानें पूरा मामला

नैनीताल। उत्तारखंड के एक छोटे से गांव में एक अनुसूचित परिवार को मजबूरन घर छोड़ना पड़ गया। इस परिवार का गुनाह इतना था की घर के बेटे ने अपने से ऊची जाति की लड़की से प्रेम विवाह कर लिया था। विवाह होने के पश्चात लड़की की तरफ वाले लोगों ने दबंगों के साथ मिलकर लड़के के परिवार को गांव छोड़ने पर मजबूर कर दिया।

आपको बताते चले कि रहमापुर गांव निवासी तन्नू सिंह के बेटे विपिन ने प्रजापति बिरादरी की युवती से 18 दिन पहले प्रेम विवाह किया था। युवती के परिजन और बिरादरी के लोग इससे नाखुश थे। शादी का पता चलने के बाद उन्होंने बिरादरी की पंचायत बुलाई गई, जिसमें तय हुआ कि युवक-युवती अब गांव में नहीं रहेंगे। विरोध के चलते उसी दिन से नव विवाहित जोड़ा गांव छोड़कर चला गया। दबंगों के डर से युवक के परिजन भी घर छोड़कर पड़ोस के इलाके में रहने लगे।

इस मामले में पीड़ित परिवार के घर वालों ने आरोप लगाया है कि युवती पक्ष के लोगों ने उनके साथ मारपीट की। इतना ही नहीं, दबंग उन पर गांव छोड़कर जाने के लिए दबाव बनाने लगे। इसके चलते हंगामा खड़ा हो गया। कुछ देर बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर दबंगों को डांट फटकार कर भगा दिया। पुलिस ने तन्नू सिंह के घर पर सुरक्षा कर्मी भी तैनात कर दिए, लेकिन उनका परिवार घर में रहने का साहस नहीं जुटा पाया।

Related Articles