सोनू निगम ने बताया सफलता का मूलमंत्र, अच्छे गायक बनने का दिखाया रास्ता

देश के मशहूर गायक सोनू निगम बीते दिनों मुंबई के एक स्कूल के कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे। फिल्मकार सुभाष घई ने भी सोनू निगम के साथ मंच साझा किया। इस कार्यक्रम में करीब 500 बच्चों की मौजूदगी देखने को मिली। सोनू ने इस मौके पर करियर और सफलता से जुड़े विषयों पर चर्चा की और अपने अनुभव और परामर्श सभी से साझा किए।

 

सोनू ने कहा, ‘प्रत्येक व्यक्ति का सफर अलग होता है। मैं छात्रों को यह सलाह देना चाहूंगा कि वह हमेशा सीखते रहें क्योंकि यह प्रक्रिया कभी खत्म नहीं होती है। ज्ञान कभी बेकार नहीं जाता है। हमेशा एक खास शैली हासिल करने की कोशिश करिए।’

सकारात्मक मानसिकता के महत्व को इंगित करते हुए सोनू ने आगे कहा, ‘जो भी आप कहते हैं उस पर ध्यान दीजिए। जांचो और अपने विचारों को नियंत्रित करो। आपको ऐसे व्यक्ति के साथ रहना चाहिए जो सकारात्मक सोच का हो। नकारात्मक लोग सिर्फ जहर ही बांट सकते हैं। किसी की भी असफलता पर खुश ना हों।’

गुफ्तुगू के दौरान सोनू निगम ने अपने कुछ गानों की प्रस्तुति भी दी जिनमें अच्छा सिला दिया तूने मेरे प्यार का, संदेशे आते हैं, ये दिल दिवाना शामिल थे। संगीतकार बनने की चाहत रखने वालों के लिए सोनू ने परार्मश दिया कि जिसकी भी उम्मीद की जाती है उससे भी बेहतर काम दें। एक सफल पार्श्वगायक बनने के लिए सुर, लगातार प्रशिक्षण और विनम्रता से आनंदित होने की कला आना जरूरी है। उन्होंने अपने करियर में फिल्मकार सुभाष घई के योगदान के लिए भी धन्यवाद अदा किया। उन्होंने कहा कि आज जिस तरह के गायक के तौर पर उन्हें लोग पहचानते हैं वह सुभाष घई के मिलने से पहले ऐसा नहीं था।

Related Articles