सोनूइजम ऐप लॉन्च, सोनू सूद हुए भावुक, बोले ‘काश मेरी मां यह देखने के लिए मेरे साथ होती’

आंध्रपदेश के फेमस IAS और IPS प्रशिक्षण संस्थान ने अपने एक विभाग का नाम रखा ‘सोनू सूद कला और मानवता विभाग’

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने कोविड-19 के दौरान लॉकडाउन में फंसे फ्रंट लाइन वर्कर्स से लेकर छात्रों तक को उनके घर पहुँचवाया। बेबस और लाचार लोगों के बीच अंधेरे में रोशनी का दीपक बनकर उनकी आर्थिक रूप से मदद भी कि है। अब सोनू सूद और उनकी टीम ने नौकरी के लिए एक नया ऐप लॉन्च किया है जो खास तौर पर पढ़े-लिखे बेरोजगारों और छात्रों की मदद करेगा।

नौकरी दिलाने वाला सोनूइजम ऐप

अभिनेता सोनू सूद का नया ऐप लॉन्च किया है जो बेरोजगारों को नौकरी ढूंढने और गरीब छात्रों को लैपटॉप और स्मार्टफोन्स उपलब्ध कराने में मदद करेगा। इस ऐप का नाम ‘सोनूइजम’ (Sonuism) है और यह उन जरूरतमंद छात्रों की मदद करेगा जो विदेशों की यूनिवर्सिटी में मेडिकल के लिए शिक्षा ले रहे हैं।

IAS और IPS प्रशिक्षण संस्थान

कोरोना महाकाल में अभिनेता सोनू सूद के द्वारा किए गए नेक काम को देखकर ही आंध्रप्रदेश में देश के सबसे फेमस और प्रतिष्ठित IAS और IPS प्रशिक्षण संस्थान ने अपने एक विभाग का नाम बदलकर ‘Sonu Sood Department of Arts & Humanities’ (सोनू सूद कला और मानवता विभाग) रखा। इससे पहले इस अकादमी के नाम ‘शरत चंद्र आईएएस अकादमी (Sarat Chandra IAS Academy)’ था।

ट्वीट पढ़कर हुए भावुक

आंध्र प्रदेश में स्थित शरत चंद्र आईएएस अकादमी, शरत चंद्र डिग्री कॉलेज और शरत चंद्र जूनियर कॉलेज ने उनके नाम पर एक विभाग बनाया है जिसका नाम है (Sonu Sood Department of Arts & Humanities) सोनू सूद कला और मानवता विभाग। इन कॉलेजो ने नए विभाग को अपने ट्वीटर हैंडल पर ट्वीट करके अभिनेता सोनू सूद को अवगत कराया। इस सम्मान को पाकर सोनू सूद बेहद भावुक हुए और कहा कि उनकी माँ इस खुशी में उनके साथ नहीं हैं। अगर वो साथ होती तो उन्हें बहुत गर्व महसूस होता।

पंजाब का स्टेट आइकन सोनू सूद

गरीबों का मसीहा और रियल लाइफ का सच्चा हीरो बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने कोरोना काल में फंसे प्रवासी मजदूरों और छात्रों को हवाई जहाज से उनके घर तक पहुँचवाया, तालाबंदी के दौरान गरीबों को भोजन दिया उनकी आर्थिक रूप से सहायता की। सोनू सूद के इसी सकारात्मक सोच के कारण ही पंजाब के चुनाव आयोग ने उन्हें ‘पंजाब का स्टेट आइकन’ नियुक्त किया है।

यह भी पढ़ेफार्मूला वन रेसर रोमैन ग्रोसज्यां उपचार के बाद बहरीन के अस्पताल से ली छुट्टी

यह भी पढ़ेपीएम मोदी और अमित शाह ने देश की आंतरिक स्थिति पर किया मंथन

Related Articles

Back to top button