एफसीआई में चावल जमा करने की जल्द मिले अनुमति, बेहतर होगी धान खरीद

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि केन्द्र सरकार से एफसीआई में जमा चावल शुरू करने की जल्द अनुमति मिले तो राज्य में समर्थन मूल्य पर धान खरीदने की व्यवस्था और बेहतर होगी।

जांजगीर: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि केन्द्र सरकार से एफसीआई में जमा चावल शुरू करने की जल्द अनुमति मिले तो राज्य में समर्थन मूल्य पर धान खरीदने की व्यवस्था और बेहतर होगी। भूपेश बघेल ने रविवार को जिले के पामगढ़ में आयोजित गुरूघासीदास जयंती समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि चावल जमा करने की अनुमति मिलने से मिलिंग के लिए धान का उठाव होगा और खरीदी केन्द्रों पर धान के लिए जगह मिल जाएगी।

उन्होंने कहा कि धान खरीदने को सुचारू रूप से जारी रखने के लिए बारदाने का भी पर्याप्त संख्या में प्रबंध किया जा रहा है। पीडीएस से बारदाना लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि व्यापारियों के बारदानों को भी उपयोग के लिए लिया गया है।

ये भी पढ़ें : JDU विधायकों को बीजेपी में मिलाने से खफा हुए सीएम नीतीश, सहयोगी दल पर जमकर निशाना साधा

उन्होने कहा कि गुरूघासीदास ने सामाजिक एकता का संदेश दिया है साथ ही आपसी भाईचारा और शांति के पथ पर चलने के लिए प्रेरित किया है। उन्होंने मनखे-मनखे एक समान का नारा देकर समाज की एकता के लिए मार्ग प्रशस्त किया है। कार्यक्रम की शुरूआत राज गीत अरपा पैरी के धार से हुई। मुख्यमंत्री सहित उपस्थित अतिथियों ने बाबा गुरू घासीदास एवं जैतखंभ की पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों के खुशहाली की कामना की।

ये भी पढ़ें : शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिये पुलिस नोडल अधिकारी ने दिये निर्देश

किसानों को मिली तीन किस्त, बना खुशहाली का माहौल

भूपेश बघेल ने कहा कि किसानों को आर्थिक रूप से सक्षम बनाने के लिए राज्य सरकार ने राजीव गांधी न्याय योजना के माध्यम से प्रति एकड़ दस हजार रूपए देना प्रारंभ किया है। जिसकी तीन किस्त किसानों को मिलने से खुशहाली का माहौल है। गांव में गौठान बनाकर गोबर को दो रूपए में खरीदने के लिए गोधन न्याय योजना बनाकर गौमाता की सेवा करने वाला छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है।

Related Articles

Back to top button