पिछड़े दलित की बात करने में सदन में चुप्पी साध लेती है सपा बसपा: राजभर

देवरिया सदर से दिवंगत विधायक जन्मेजय सिंह के पुत्र एवं निर्दलीय प्रत्याशी अजय प्रताप सिंह के समर्थन में खोरा बाजार में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुये राजभर ने कहा “योगी सरकार से दो-दो हाथ कर मैंने मंत्री पद तक त्याग दिया.

देवरिया: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में मंत्री रहे सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने शनिवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) झूठ की राजनीति करती है वहीं सपा और बसपा के नेता पिछड़ा, दलित समाज के हित की बात करने पर सदन में चुप्पी साध लेते है.

देवरिया सदर से दिवंगत विधायक जन्मेजय सिंह के पुत्र एवं निर्दलीय प्रत्याशी अजय प्रताप सिंह के समर्थन में खोरा बाजार में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुये राजभर ने कहा “योगी सरकार से दो-दो हाथ कर मैंने मंत्री पद तक त्याग दिया. सत्ता में रहकर मैंने विपक्ष की भूमिका निभाई. सपा, बसपा कांग्रेस जो विपक्ष की भूमिका में होकर भी अपनी जिम्मेदारी सदन में नहीं निभा सके, वही आज दलित, पिछड़ों का वोट मांग रहे हैं. सपा और बसपा के नेता पिछड़ा, दलित समाज के हित की बात करने पर सदन में चुप्पी साध लेते है.

उन्होंने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुये कहा कि दिल्ली में 70 रुपये में 210 यूनिट बिजली मिलती है. वहीं उत्तर प्रदेश में इतने यूनिट बिजली के लिए उपभोक्ताओं को 230 रुपये देना पड़ता है. उन्होने सरकार से पांच साल तक के घरेलू बिजली बिल माफ करने को कहा था लेकिन सरकार ने नहीं सुना.

राजभर ने कहा कि आरक्षण वर्गीकरण के मुद्दे पर सरकार से लेकर पूरा विपक्ष चुप हो जाता है. सुभासपा की मांग जनसंख्या के हिसाब से आरक्षण देने की है. सरकारी विद्यालयों की शिक्षा व्यवस्था प्राइवेट की तर्ज पर किया जायेगा.

यह भी पढ़े: बिहार में ‘लालटेन’ खत्म, 10 नवंबर को ‘चिराग’ भी बुझ जाएगा: राजग

Related Articles

Back to top button