S&P ने भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए दिए बड़े संकेत, जानें कब होगा सुधार

नई दिल्ली: भारत देश में कोरोना महामारी के चलते अर्थव्यवस्था (Economy) में आई हुई कमी अब धीरे-धीरे पटरी पर लौटने वाली है। इसका अनुमान लगाया जा रहा है कि एक अप्रेल से शुरू होने वाले नए वित्‍त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में काफी सुधार आ सकता है। एसएंडपी ग्‍लोबल रेटिंग एजेंसी के मुताबिक, देश में कोरोना महामारी की वजह से अर्थव्यवस्था (Economy) की स्थिति पर काफी असर पड़ा था। कोरोना महामारी में आई कमी के बाद से सरकार अपने बजट 2021-22 से भारतीय अर्थव्यवस्था काे पटरी पर लाने की कोशिश कर रही है।

जोखिमों का सामना कर रही अर्थव्यवस्था

भारतीय अर्थव्यवस्था सुधार लाने के लिए सरकार को अभी कई प्रयास करना होगा। इसमें सबसे जरुरी है कि लोगों का अधिक से अधिक कोरोना वैक्सीनेशन लगाया जाए। एसएंडपी के अनुसार कोरोना में आई कमी के बाद भी अर्थव्यवस्था जोखिमों का सामना कर रही है क्योंकि यह स्थिरीकरण से वसूली तक जाती है। अनुमान लगाया गया है कि 2021 के मध्य तक भारतीय अर्थव्यवस्था रिकवरी की पटरी पर लौटेगी।

ये भी पढ़ें : विराट कोहली पर मंडरा रहे संकट के बादल, मैच खेलने पर लग सकती है रोक

अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधार हो रही सुधार

एसएंडपी ग्‍लोबल रेटिंग एजेंसी के मुताबिक, भारतीय अर्थव्यवस्था में अब तेजी से सुधार हो रहा है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से उठाए गए कदम और भारत सरकार की कोशिश से अर्थव्यवस्था में आई गिरावट कम हाे रही है। भारतीय बैंकिंग सिस्टम भी वर्ष 2023 के मध्य तक वापस अपनी रफ्तार पकड़ लेगा।

ये भी पढ़ें : पेट्रोल-डीजल-गैस के बढ़ते दामों पर राहुल गांधी ने कहा- बस दो का करों विकास

Related Articles

Back to top button