सपा को मिला पूर्वांचल में बड़े ब्राह्मण परिवार का साथ, बाहुबली हरिशंकर तिवार बेटों संग सपा में शामिल

सपा का कुनबा बढ़ गया है. पूर्वांचल में अब अखिलेश यादव और मजबूत हो गए है.

UP विधानसभा चुनाव को लेकर सभी दल पूरी ताकत लगा रहे है. वहीं पूर्वांचल में अखिलेश को अब और मजबूत माना जा रहा है. दरअसल विधायक विनय शंकर समेत हरिशंकर तिवारी का परिवार समाजवादी पार्टी में शामिल हो गया. इसी के साथ सपा की पूर्वांचल में बड़े ब्राह्मण चेहरे की तलाश भी पूरी हो गई. विनय शंकर के साथ उनके रिश्तेदार और विधान परिषद के पूर्व सभापति गणेश शंकर पांडेय व पूर्व सांसद कुशल तिवारी भी सपा में आ गए. हरिशंकर तिवारी के बडे़ बेटे पूर्व सांसद भीष्म शंकर उर्फ कुशल तिवारी, चिल्लूपार के विधायक विनय शंकर तिवारी के साथ ही विधान परिषद के पूर्व सभापति गणेश शंकर पाण्डेय, संतकबीरनगर से भाजपा विधायक दिग्विजय नारायण चौबे उर्फ जय और बसपा के पूर्व विधानसभा प्रत्याशी संतोष तिवारी भी सपा में शामिल हो गए.

योगी सरकार ने लोकतंत्र नहीं राजतंत्र अपनाया

इस मौके पर विनय शंकर तिवारी ने कहा है कि 2017 में जनता के बड़े समर्थन और उत्साह से यूपी में भाजपा की सरकार बनी लेकिन इस सरकार ने लोकतंत्र नहीं राजतंत्र अपनाया. लोगों के बोलने पर पाबंदी लगाई. काम किसी और का है पर पत्थर अपना लगवा रहे हैं.

सपा किन्नर सभा की अध्यक्ष बनीं पायल

कहा जा रहा है कि तिवारी परिवार के सपा में शामिल होने से सपा पूर्वांचल में पहले से ज्यादा मजबूत हो गई है. वहां की कई अन्य पार्टियों से भी सपा का गठबंधन हो चुका है. रविवार को बसपा से भी तमाम नेताओं ने सपा की सदस्यता ली. पायल किन्नर ने सपा को समर्थन देने का वादा किया और उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई गई है. उन्हें सपा किन्नर सभा का अध्यक्ष बनाया गया है.

यह भी पढ़ें-  ‘बाबा जी’ देख लो ! दारोगा जी बहुत ही गाली देत हैं, जानें ऐसा छात्राओं ने क्यों कहा

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles