नई मुश्किल में फंसे सपा सांसद आजम खान, मकानों पर जबरन कब्जा कराने के आरोप

0

रामपुर: समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर के सांसद आज़म खान अब एक नई मुश्किल में फंस गए हैं. उन पर जमीन के लिए मकान पर जबरन कब्जा कराने के आरोप लगे हैं. उनके खिलाफ पुलिस ने दो अलग मामले दर्ज किए हैं. आरोप ये है कि जो लोग जबरन मकान खाली कराने पहुंचे उन्होंने लूटपाट और मारपीट को भी अंजाम दिया.रामपुर के एसपी अजयपाल शर्मा ने बताया,”कुछ लोगों के द्वारा ये शिकायत की गई थी कि पहले उनको लालच दिया गया, कहा गया कि उनको दूसरी जगह विस्थापित किया जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ. उनके घरों को तोड़ा गया, मारपीट की गई और सामान आदि को लूट लिया गया. प्रथम दृष्टया जांच में ये मामले सही पाए गए हैं.”

उन्होंने बताया,” ये दोनों मामले दर्ज किए गए हैं. उनमें छह लोगों को नामजद किया गया है. इनमें सांसद आजम खान, पूर्व सीओ, एसओजी का एक पूर्व सिपाही आदि शामिल हैं. यहां एक स्कूल बनाया जाना था और इसी कारण से मकानों को तोड़ा गया.”एसपी ने कहा,”फिलहाल साक्ष्य संकलन किया जा रहा है और जो बातें जांच में सामने आएंगी उनके आधार पर कार्रवाई की जाएगी.”

कई मामलों में फंस गए हैं आजम खान

– सबसे पहला विवाद दो शेरों की मूर्तियों का है. ये दोनों मूर्तियां रामपुर क्लब से चोरी हुई थीं. ये मूर्तियां उस दौर की हैं जब रामपुर में नवाबों का शासन था. ये दोनों मूर्तियां जौहर यूनिवर्सिटी में पाई गईं.

– दूसरा विवाद मदरसा आलिया की किताबों और फर्नीचर का है. यहां करीब 9 हजार किताबें थीं. अब यहां स्कूल चलता है जिसे आजम खान का ट्रस्ट चलाता है. आरोप है कि बेशकीमती किताबें और फर्नीचर जौहर यूनिवर्सिटी पहुंचा दिया गया.

– तीसरा विवाद जमीन से जुड़ा है. 78 हेक्टेयर में बनी इस भव्य यूनिवर्सिटी की 38 हेक्टेयर जमीन पर विवाद है. आरोप है कि इस जमीन को जबरन किसानों से ले लिया गया. यूनिवर्सिटी के लिए तीन बार सर्किल रेट कम कराए गए. आजम खान की अध्यक्षता वाला ट्रस्ट इस यूनिवर्सिटी को चलाता है. इस ट्रस्ट से जुड़ी लोग आजम परिवार के ही हैं.

– रामपुर में आजम खान ने एक भव्य रिजॉर्ट भी बनवाया है जिसको हमसफर रिजॉर्ट के नाम से जाना जाता है. आरोप है कि इस रिजॉर्ट के लिए सिंचाई विभाग की जमीन पर अवैध कब्जा कर लिया गया.

loading...
शेयर करें