आज होगा बड़ा फैसला, बुआ के साथ जाएंगे अखिलेश या कांग्रेस से मिलाएंगे हाथ

0

लखनऊ। काफी उथल-पुथल के बाद समाजवादी पार्टी (सपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शनिवार को लखनऊ में हो रही है। सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में लोकसभा चुनाव की रणनीति पर चर्चा की जाएगी। साथ ही चुनाव में बसपा के साथ सीटों पर बंटवारे के बारे में भी मंथन किया जायेगा। लेकिन खास बात ये है कि इस बैठक में न तो पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव और न ही शिवपाल यादव शामिल हुए।     राष्ट्रीय कार्यकारिणी

आपको बता दें कि इस बैठक का मेन मुद्दा बीएसपी और सपा का गठबंधन होगा। इसमें सीटों पर मंथन किया जाना है। उल्लेखनीय है कि साल 2019 का लोकसभा चुनाव सपा बीएसपी के साथ मिल कर लड़ेगी। इस गठबंधन में कांग्रेस शामिल होगी या नहीं अभी तक कुछ तय नहीं हुआ है। वहीं समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव कांग्रेस के बदले आरएलडी से चुनावी समझौते के पक्ष में हैं।

वहीँ मायवती इस गठबंधन में कांग्रेस का भी साथ चाहती हैं। यूपी में लोकसभा की 80 सीटें हैं। अब तक तो पिछले चुनाव में दूसरे नंबर पर रही पार्टी को उस सीट से टिकट देने का फ़ार्मूला चल रहा है। लेकिन इसमें कई पेंच हैं। जैसे कुछ सीटों पर पिछली बार सपा दूसरे नंबर पर थी वहां से इस बार भी लड़ना चाहती लेकिन बसपा भी उसी सीट पर नजर गड़ाए हुए है।

वैसे भी पहले भी मायावती कह चुकी हैं कि अगर सम्माजनक सीटें मिलेंगी तभी वो गठबंधन करेंगी। वहीँ कांग्रेस भी इन्ही सीटों के लिए अपनी मांग रख रही है ऐसे में गठबंधन की रह मुश्किल लग रही है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और सपा का फार्मूला में नहीं चला। इन्ही सब मुद्दों को लेकर आज राष्ट्रीय कार्यकारिणी के बैठक में मंथन चल रहा है।
 

loading...
शेयर करें