ये हैं देश के सुपर साइबर कॉप, कांपते हैं इनसे ऑनलाइन अपराध करने वाले

triveni singh
त्रिवेणी सिंह

नई दिल्ली।  उत्तर प्रदेश एसटीएफ के एसपी त्रिवेणी सिंह को 2015 में सुपर साइबर कॉप का अवॉर्ड मिला है। उन्होंने ऐसे कॉल सेंटरों का खुलासा किया जो जॉब दिलाने, एटीएम बूथ और टॉवर लगवाने तथा इंश्योरेंस करने के नाम पर ठगी करते थे। ये अवॉर्ड डाटा सिक्योरिटी कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया (DSCI) और Initiative of Nasscom की ओर से दिया गया है। त्रिवेणी सिंह को ऑनलाइन फ्रॉड करने वाली कई कंपनियों के काले कारनामे उजागर और उन पर कार्रवाई करने के लिए यह अवॉर्ड दिया गया है । एसपी त्रिवेणी सिंह ने 2014 में ऐसे कई कॉल सेंटरों पर रेड किया।

उन्होंने दिल्ली और नोएडा में चल रहे ऐसे कई कॉल सेंटर और फेक कंपनियों के नेटवर्क को तोड़ा और सैकड़ों लोगों को गिरफ्तार किया है । साथ ही हाल में ही नोएडा के सेक्टर- 4 और दिल्ली स्थित कॉल सेंटरों पर छापा मारकर करीब 100 लोगों की गिरफ्तारी करते हुए 20 करोड़ की ठगी का खुलासा किया था।

साइबर क्राइम की ट्रेनिंग सीबीआई से प्राप्त करने वाले त्रिवेणी सिंह ने USA के EC–Council से कंप्यूटर हैकिंग का सर्टिफिकेट ले रखा है। एमिटी यूनिवर्सिटी से सिंह ने फाइनेंशियल साइबर क्राइम में पीएचडी भी कर रखी है।

उत्तर-प्रदेश में साइबर क्राइम से जुड़े मामलों की निगरानी करने वाले सिंह की टीम केस से जुड़े पहलुओं की तहकीकात के लिए देश भर में छानबीन करती है और इस तरह के मामलों को निपटाती है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button