किसान आंदोलन में सपा कार्यकर्ता हुए गिरफ्तार, भारत बंद का ऐलान

लखनऊ में किसान आंदोलन के समर्थन में सपा कार्यकर्ता हुए गिरफ्तार, किसानों ने किया भारत बंद का ऐलान

लखनऊ: कृषि कानून के विरोध में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किसानों का समर्थन किया। जिसके चलते पुलिस ने लखनऊ में सपा कार्यालय से लेकर अखिलेश यादव के घर तक के पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया है।

कार्यकर्ता हुए गिरफ्तार

सपा कार्यकर्ता सुबह प्रदर्शन के लिए कार्यालय की तरफ बढ़े तो पुलिसकर्मियों ने उन्हें कार्यालय से ही गिरफ्तार कर लिया। प्रदर्शन को रोकने के लिए लखनऊ के विक्रमादित्य मार्ग पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

रैली को नहीं मिली मंजूरी

किसान आंदोलन के समर्थन में अखिलेश यादव के किसान रैली को कन्नौज में जिलाधिकारी ने मंजूरी नहीं दी। कृषि कानून के विरोध में कई राजनेताओं ने किसानों का समर्थन भी किया है। किसान दिल्ली में केंद्र द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर पिछले कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं।

डीएम का बयान

जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्रा ने कहा कि अभी कोरोना वायरस खत्म नहीं हुआ है लिहाजा भीड़ जुटाने की अनुमति किसी भी स्थिति में नहीं दी जा सकती। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को पत्र भेजकर इस पर अवगत करा दिया गया है। प्रशासन का कहना है कि अगर फिर भी भीड़ जुटती है तो कार्रवाई की जाएगी।

भारत बंद का ऐलान

किसानों के साथ सरकार की कई बार बातचीत हुई लेकिन सरकार की कोशिश नाकाम साबित हुई। कृषि कानून को वापिस लेने की मांग में किसानों ने आठ दिसंबर से भारत बंद का ऐलान किया है।

यह भी पढ़े‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ की एक्ट्रेस ने दुनिया को कहा अलविदा, शोक में डूबा टीवी जगत

यह भी पढ़ेIndian Armed Forces Flag Day 2020: जानें इस दिन सेना के ‘प्रतीक चिन्ह’ झंडे का वितरण क्यों होता है? इस वेबसाइट पर करें सैनिकों की मदद

Related Articles

Back to top button