IPL
IPL

विधानसभा में मंत्री के बिगड़े बोल, तेजस्वी ने साधा निशाना

पटना: बिहार विधानसभा में एक अजीबों गरीब नजारा देखने को मिला। भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) के मंत्री सम्राट चौधरी के बोल इतने बिगड़ गए कि वह विधानसभा अध्यक्ष को ही सदन चलाने का पाठ पढ़ाने लगे। जिसके बाद उनके बर्ताव को देखते हुए विधानसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी और अपने कक्ष में चले गए।

मंत्री के बिगड़े बोल

बिहार विधानसभा में पंचायतीराज मंत्री सम्राट चौधरी के तीखे शब्दों से क्षुब्ध सभाध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। एक सवाल का जवाब देते हुए मंत्री सम्राट चौधरी ने विधानसभा अध्यक्ष से कहा कि ज्यादा ‘व्याकुल’ होने की जरूरत नहीं है। दरअसल विधानसभा में प्रश्नोत्तर काल के दौरान BJP के विनय बिहारी के तारांकित सवाल के जवाब के दौरान सभाध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने ऑनलाइन जवाब नहीं आने पर मंत्री सम्राट चौधरी को इसे गंभीरता से लेने का निर्देश दिया। इस पर मंत्री ने तल्ख लहजे में कहा, “आप जानकारी ले लें कि विभाग की ओर से 16 में से 14 सवालों के जवाब दे दिए गए हैं।”

उनके इस बयान पर सभाध्यक्ष ने कहा, “आज सुबह 9 बजे तक 16 में से 11 प्रश्नों के जवाब ही ऑनलाइन आए थे, जो 69 प्रतिशत हैं। आप अपने विभाग के अधिकारियों को निर्देश दें कि वे ऑनलाइन जवाब समय पर दिया करें।” मंत्री सम्राट चौधरी ने इसके बाद कहा कि वह इसे देख लेंगे लेकिन इसमें ज्यादा ‘व्याकुल’ होने की जरूरत नहीं है। इस पर सभाध्यक्ष ने मंत्री से व्याकुल शब्द वापस लेने को कहा लेकिन मंत्री इसके लिए तैयार नहीं हुए और कहा कि इस तरह से आप सदन नहीं चलाएं।

तेजस्वी ने बोला हमला

तेजस्वी यादव ने विधानसभा अध्यक्ष के साथ इस बर्ताव को लेकर जमकर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “मर्माहत हूं। बिहार में सत्ता पक्ष और मंत्री सदन की गरिमा और आसन की महत्ता को तार-तार कर रहे है। सरकार के एक भाजपाई मंत्री अध्यक्ष महोदय की तरफ़ उंगली उठाकर कह रहे है कि व्याकुल मत होईए।ऐसे सदन नहीं चलेगा। कैसे कैसे लोग मंत्री बन गए है जिन्हें लोकतांत्रिक मर्यादाओं का ज्ञान नहीं?”

यह भी पढ़ें: Ind vs Eng: राहुल के बचाव में उतरे Virat Kohli, सूर्यकुमार को लेकर उठ रहे सवाल

Related Articles

Back to top button