लायन सफारी पहुंचे खास मेहमान पटौदी, जेसिका और तपस्या

0

lionuni

इटावा। लंबे इंतजार के बाद लायन सफारी में तीन नये मेहमान पहुंच गये। यहां एक शेर और दो शेरनी को गुजरात के जूनागढ़ से लाया गया है। जिससे अब इटावा के लायन सफारी में अब चार शेर व पांच शेरनी हो गई हैं। पहले गुजरात सरकार ने इन्हें देने से मना कर दिया था। बाद में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के प्रयास पर इन्हें लाया जा सका है।

सफारी के मुख्य वन संरक्षक एसके उपाध्याय के निर्देशन पर गुजरात से शेर पटौदी और शेरनी जेसिका व तपस्या को लाया गया है। इसमें पटौदी और तपस्या की उम्र साढ़े तीन साल है। जबकि जेसिका सात साल की है। सफारी के वारेन टाउन में इन तीनों को रखा गया है। कड़ाके की सर्दी से बचाव के लिए हीटर लगाये गए हैं और पुआल भी बिछाया गया है।

नए मेहमानों को ब्रीडिंग सेंटर के कुरनटाइन हाउस व एनिमल हाउस में रखा गया है। अब लायन सफारी में कुल नौ शेर, शेरनी दहाड़ रहे हैं, जिनमें चार जोड़े हैं। लायन सफारी में विष्णु व लक्ष्मी नामक शेरों के जोड़े की मौत के बाद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव नए शेरों के जोडे़ को सफारी में लाने के लिए लंबे समय से प्रयासरत थे। सोमवार रात आठ बजे दो शेरनी, एक शेर को लेकर लखनऊ जू के निदेशक डा. अनुपम गुप्ता, जूनागढ़ के डॉक्टर सीएन बुहा व कीपर कमलेश, सतेंद्र और लखनऊ के कीपर लायन सफारी पहुंचे। जेसिका को एनिमल हाउस में रखा गया है और पटौदी व तपस्या को सफारी के कुरनटाइन हाउस में रखा गया है।

माघ मेला क्षेत्र में भूमि आंवटन का मामला पहुंचा हाईकोर्ट

loading...
शेयर करें