सार्वजनिक स्‍थानों पर थूकना पड़ेगा भारी, मिलेगी जेल की सजा

0

मसूरी। स्‍वच्‍छता अभियान को बढ़ाते हुए नगर पालिका परिषद मसूरी ने कड़े नियम लेकर आई है। इस नये नियम से सार्वजनिक स्‍थानों पर थूकना या गंदकी करने पर जेल हो सकती हैं। इसकी शुरुवात भी हो चुकी है। बीते दिनों में नगर पालिका परिषद मसूरी ने दो लोगों पर सार्वजनिक क्षेत्र में धूकने और गंदगी करने पर दो हजार रुपये का जुर्माना ठोका था। इतना ही नहीं आगे इस तरह से कहरकत करने पर काईवाई करने की बात कही थी।

बता दें कि इस समय मसूरी को साफ सुधरा रखने के लिए नगर परिषद ने मुहीम चला रखी है। यह शहर स्‍वच्‍छता के लिए मिसाल बने इस लिए कई योजनाओं पर काम किया जा रहा है। इसी योजना के तहत शहरे के कई स्‍थानों पर कूडे़ के साथ थूकदान भी लगाये जाने के निर्देश दिये जा चुके है। साथ ही कई स्‍थानों पर लगा भी दिये गये हैं।

यह भी पढ़े-  त्रिवेंद्र सरकार की नई पहल, अब तेज गाड़ी चलाने पर निरस्त किया जाएगा लाइसेंस

मसूरी नगर पालिका परिषद के स्वास्थ्य अधिकारी आर के सिंह ने बताया कि 16 नवंबर 2016 को उत्तराखण्ड सरकार द्वारा उत्तराखण्ड एंटी लीटरिंग और स्पिटिंग एक्ट प्रदेश में लागू कर दिया गया है। इस कारण यदि कोई यहां वहां या फिर सार्वजनिक स्‍थानों पर गंदगी करता है उसके ऊपर 5000 तक का जुर्माना हो सकता है। इतना ही नहीं उसे 6 माह तक की जेल भी हो सकती है।

loading...
शेयर करें