आजम खान विवाद पर सपा का प्रदर्शन, DM बोले- रामपुर में किसी को घुसने नहीं देंगे

0

रामपुर में गुरुवार को जबर्दस्त सियासी जंग छिड़ने वाली है. समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान के जौहर यूनिवर्सिटी पर छापे और विधायक अब्दुल्ला आजम से पूछताछ से नाराज समाजवादी पार्टी (सपा) के कार्यकर्ता बुधवार यानी आज रामपुर में विरोध प्रदर्शन के लिए जुटने लगे हैं. बताया जा रहा है कि यहां 10 हजार समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता और नेता एकत्रित होंगे.पुलिस दूसरे राज्यों से आ रही बसों की भी तलाशी ले रही है. जिसके कारण नेशनल हाईवे-24 पर लंबा जाम लग गया है. रामपुर में प्रशासन ने भारी तादाद में पुलिस बल तैनात किया है ताकि कोई भी बाहर का व्यक्ति रामपुर में दाखिल ना हो सके. जगह-जगह पर पुलिस ने नाके लगा रखे हैं. साथ ही हाईवे पर भी पूरी चौकसी बढ़ा दी है.

रामपुर के डीएम एके सिंह ने कहा कि इलाके में कांवर यात्रा और बकरा ईद के मद्देनजर धारा 144 (एक क्षेत्र में 5 से अधिक लोगों की सभा) पहले से ही लागू है. यहां अतिरिक्त सुरक्षाबल की व्यवस्था की गई है. हम किसी को भी सीमा से प्रवेश नहीं करने देंगे. जो कोई भी कानून और व्यवस्था का उल्लंघन करेगा, उसके साथ सख्ती से निपटा जाएगा. समाजवादी पार्टी के प्रदर्शन को देखते हुए रामपुर की सीमाओं को सील कर दिया गया है. पुलिस की भारी तैनाती की गई है. उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों से समाजवादी पार्टी के पार्टी के कार्यकर्ता 10:00 बजे रामपुर के सपा कार्यालय पहुंचेंगे. इस विरोध प्रदर्शन को देखते हुए पूरे रामपुर में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है.

बढ़ाई गई सुरक्षा

सपा ने सरकार पर आजम खान को परेशान और प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. यूपी के अलग-अलग इलाकों से समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता 10 बजे रामपुर के सपा कार्यालय पहुंचेंगे और विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेंगे. इसे देखते हुए पूरे रामपुर में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है.

बुधवार रात को आजम खान के बेटे अब्दुल्ला धरने पर बैठे थे. अब्दुल्ला पार्टी समर्थकों के साथ कैंडल लेकर जौहर यूनिवर्सिटी के गेट पर धरने पर बैठे थे. बता दें, अब्दुल्ला आजम खान को बुधवार को कानूनी कार्रवाई में बाधा डालने के आरोप में हिरासत में लिया गया था. इसके बाद अखिलेश यादव ने सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को आजम खान के समर्थन में सड़क पर उतरने का निर्देश दिया था.

loading...
शेयर करें