तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी पर कसा तंज, कहा- ‘आप नकली ओबीसी हैं’

बिहार (Bihar) के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल  के नेता तेजस्वी यादव ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. तेजस्वी यादव ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर लिखा, ‘नरेंद्र मोदी जी नकली पिछड़े हैं. जन्म से लेकर 55 वर्ष तक वो अगड़े थे फिर एक दिन अचानक पिछड़े बन गए. सच्चा, अच्छा और असली जन्मजात पिछड़ा कभी भी झूठा, बनावटी, मिलावटी, सजावटी और दिखावटी नहीं होता. पिछड़ों को बेवकूफ समझे है का गुजराती महोदय? क्या किए है पिछड़ों के लिए अगड़े महोदय?’ वहीं, अपने एक और ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा, ‘प्रिय नरेंद्र मोदी जी, आप जन्मजात नहीं नकली ओबीसी है और हां आपने चोरी की है. क्या किया है पिछड़ों के लिए? पीएमओ में एक भी अधिकारी ओबीसी नहीं है. देश में कोई वीसी, प्रोफेसर ओबीसी नहीं है. किसी संवैधानिक संस्था का निदेशक ओबीसी नहीं है. जातीय अनुपात में ओबीसी का आरक्षण क्यों नहीं बढ़ाया?’

तेजस्वी यादव ने अपने एक और ट्वीट में लिखा, ‘हम पहली बार मतदान करने जा रहे वोटरों से अनुरोध करते हैं कि वे उन 5 करोड़ लोगों और युवाओं के लिए वोट करें जिन्होंने पिछले 5 सालों में पीएम मोदी के अवांछित स्टंट के कारण अपनी नौकरियां गंवाई है.’ दरअसल, ‘सभी चोरों के नाम में मोदी क्यों है’ बयान को लेकर राहुल गांधी को घेरते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के अकलुज में बुधवार को कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष ने यह बयान देकर उस पिछड़े समुदाय की छवि खराब करने की कोशिश की है जिससे वह ताल्लुक रखते हैं. मोदी ने दावा किया, ‘कांग्रेस और उसके सहयोगियों का कहना है कि समाज में सभी मोदी चोर हैं. कांग्रेस और उसके सहयोगियों ने मेरी पिछड़ी जाति को अपशब्द कहने में कोई कसर नहीं छोड़ी. इस बार तो उन्होंने सीमाएं ही लांघ दीं और पूरे पिछड़े समुदाय को अपशब्द कह डाले.

दरअसल, राहुल गांधी ने हाल ही में महाराष्ट्र में एक चुनावी रैली में कहा था, ‘मेरा एक प्रश्न है. सभी चोरों के नाम में मोदी क्यों होता है, भले ही वह नीरव मोदी हो, ललित मोदी हो और नरेंद्र मोदी हो? हमें नहीं पता कि ऐसे और कितने मोदी आएंगे.’ गौरतलब है कि सात चरणों में होने वाले लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से शुरू हो गए हैं. देशभर की 91 लोकसभा सीटों पर गुरुवार को पहले चरण का मतदान हुआ. दूसरे चरण का मतदान आज (18 अप्रैल) हो रहा है. तीसरे चरण का 23 अप्रैल, चौथे चरण का 29 अप्रैल, पांचवे चरण का छह मई, छठे चरण का 12 मई और सातवें व अंतिम चरण का मतदान 19 मई को होगा. मतगणना 23 मई को होगी.

Related Articles