राजस्थान में रोड नेटवर्क स्थापित करने में राज्य सरकार,केंद्र का करेगी पूरा सहयोग-सीएम गहलोत

सीएम गहलोत ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्गों तथा आधारभूत ढांचे के विकास से संबंधित अन्य परियोजनाओं को पूरा करने में राज्य सरकार पूरा सहयोग करेगी।

जयपुर, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा राज्य में बन रहीं सड़को में राज्य सरकार पूरा सहयोग करेगी। चाहे वो केन्द्रीय सड़क परिवहन द्वारा बन रही हो या चाहे राजमार्ग मंत्रालय तथा एनएचआई के सहयोग से बन रही हों। सीएम गहलोत ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्गों तथा आधारभूत ढांचे के विकास से संबंधित अन्य परियोजनाओं को पूरा करने में राज्य सरकार पूरा सहयोग करेगी।

गहलोत आज मुख्यमंत्री निवास पर आठ हजार 500 करोड़ की लागत से 1127 किलोमीटर लंबी 18 सड़क परियोजनाओं के वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से शिलान्यास एवं लोकार्पण समारोह को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने इनमें से 11 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं सात परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

जनहित के कार्यों में राजनितिक भेदभाव नहीं

गहलोत ने कहा कि विकास परियोजनाओं में राजनीतिक आधार पर कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए। ‘हर कलम सिर्फ जनहित में चले‘ हमारी सरकार इसी सोच के साथ काम कर रही है। इसी भावना से हमने बीते बीस सालों में जब-जब भी हमारी सरकार रही प्रदेश में गांव-ढाणी और सुदूर सीमावर्ती क्षेत्र तक सड़कों का मजबूत नेटवर्क तैयार करने का काम किया।

सीएम ने प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण की परियोजनाओं को गति देने के लिए नितिन गडकरी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि राजस्थान में रोड इन्फ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए गडकरी की गहन सोच यह दर्शाती है कि वे किस प्रतिबद्धता से अपने काम को अंजाम देने में लगे हैं।

इसे भी पढ़े:अटल बिहारी बाजपेयी थे भारत के पहले साइबर प्रधानमंत्री-मनीष खेमका

गहलोत ने निर्माणाधीन दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस से जयपुर-दौसा लिंक को जोड़ने, अमृतसर से जामनगर के बीच बनाए जा रहे एक्सप्रेस-वे में जोधपुर से पचपदरा के बीच सिक्स लेन सड़क विकसित करने, जोधपुर में यातायात के दबाव की समस्या को दूर करने के लिए एलिवेटेड रोड की डीपीआर तैयार करने, बीते चार वर्षों में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा सैद्धांतिक रूप से घोषित 50 नेशनल हाइवेज के लंबित गजट नोटिफिकेशन को जारी करने, लंबे समय से अधूरे पड़े दिल्ली-जयपुर हाइवे को पूरा करने तथा जालौर में आरओबी निर्माण के लिए स्वीकृति देने का आग्रह किया।

इससे पहले केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने राजस्थान के सड़क विकास से संबंधित इन महत्वपूर्ण परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करते हुए कहा कि जिस सुखी, समृद्ध और खुशहाल राजस्थान का सपना मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देखा है, उसे साकार करने में उनका मंत्रालय हरसंभव मदद करेगा। गडकरी ने इस अवसर पर केन्द्रीय सड़क निधि से प्रदेश में एक हजार करोड़ के नए कार्यों की घोषणा करते हुए कहा कि प्रदेश के सड़क विकास से संबंधित विभिन्न कार्यों को गति देने में कोई कमी नहीं रखी जाएगी।

Related Articles