बुलंदशहर : मायावती का बड़ा बयान, राज्य में कायम है जंगलराज

0

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हुई हिंसा को लेकर चारों तरफ अफरा तफरी का मौहौल है। प्रदेश की कानून व्यवस्ता पर लगातार सवाल उठ रहे है। इस मामले में उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने भी मौजूदा सरकार को घेरते हुए एक बड़ा बयान दिया है। मायावत ने कहा कि अराजकता को संरक्षण देने के कारण ही इतनी बड़ी घटना हुई है। उत्तर प्रदेश जैसे बड़े व विकास के लिए तरस रहे राज्य में भाजपा का जंगलराज कायम है, जिसमें अब कानून के रखवाले भी बलि चढ़ रहे हैं जो अत्यंत दुख व चिंता की बात है।

बसपा मुखिया ने कहा  कि परिवारों को केवल समुचित अनुग्रह राशि देना ही प्रदेश सरकार के लिये काफी नहीं होना चाहिए, बल्कि इस हिंसा के लिए सभी दोषियों को सख्त से सख्त सजा समय पर दिलाना भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए ताकि देश को ऐसा महसूस हो कि उत्तर प्रदेश में कोई सरकार भी है।

उन्होंने कहा, “भाजपा व इनकी सरकारों को इन्हीं के द्वारा पैदा भीड़तंत्र के हिंसक व अराजकता के राज को खत्म करने के लिए देश व प्रदेशों में कानून का राज स्थापित करने का प्रयास करना चाहिए। देश के संविधान व लोकतंत्र को भीड़तंत्र की बलि चढ़ने से आगे रोकने के लिए यह अत्यंत जरूरी है।

मायावती ने राजधानी लखनऊ में भाजपा के नेता प्रत्यूषमणि त्रिपाठी की हत्या का उल्लेख करते हुये कहा, “भाजपा की बढ़ती हुई भीड़तंत्र की उग्र व हिंसक स्थिति का शिकार अब स्वयं इन्हीं के लोग ही होने लगे हैं। पहले दलितों, पिछड़ों, मुस्लिमों व अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों को अपनी हिंसा व उग्रता का शिकार बनाने वाले ये अराजक लोग अब अपनी आदतों से मजबूर हो गए हैं।”

loading...
शेयर करें