होम आइसोलेशन के नियमों का सख्ती से करायें पालन- कर्मवीर शर्मा

कर्मवीर शर्मा ने कहा है कि जिले में जहां से कोरोना पॉजिटिव केस ज्यादा निकलकर आ रहे है, वहॉँ कंटेनमेंट क्षेत्रों में कोरोना के संबंध में जारी निर्देशों को सख्ती से पालन कराया जाये।

जबलपुर: मध्यप्रदेश के जबलपुल कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने कहा है कि जिले में जहां से कोरोना पॉजिटिव केस ज्यादा निकलकर आ रहे है, वहॉँ कंटेनमेंट क्षेत्रों में कोरोना के संबंध में जारी निर्देशों को सख्ती से पालन कराया जाये।

शर्मा ने स्वाथ्य अधिकारियों की बैठक में कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे पॉजिटिव मरीजों पर स्वास्थ्य विभाग के मैदानी अमले के माध्यम से निगरानी रखे और होम आइसोलेशन के नियमों का उल्लंघन करने पर सख्त कार्यवाही करें। उन्होंने बैठक में कहा कि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठाये जायें। उन्होंने उन क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन बनाने के निर्देश भी दिये जहां ज्यादा संख्या में कोरोना मरीज आ रहे हैं।

इस अवसर पर शर्मा ने कहा कि यदि परिवार का कोई सदस्य कोरोना पॉजिटिव आता है तो उस परिवार के अन्य सदस्यों को भी आइसोलेट अथवा क्वारंटीन किया जाये। उन्होंने हर एक पॉजिटिव प्रकरण को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि उसके संपर्क में आने वालों की जानकारी जुटा कर आवश्यक कार्यवाही की जाए।

शर्मा ने बैठक में होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के घर पर पोस्टर लगाने के निर्देश भी दिये तथा पॉजिटिव मरीज के घर एवं आसपास के क्षेत्र को सेनिटाइज कराने कहा। उन्होंने पिछले दस दिनों में कोरोना पॉजिटिव मिले बुजुर्गों और पचास वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों के प्राप्त डेटा का विश्लेषण करने के निर्देश स्वास्थ्य अधिकारियों को दिये। उन्होंने सर्दी-खांसी से दो दिन से अधिक समय से पीडि़त व्यक्तियों के सेम्पल लेने पर भी जोर दिया।

बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रत्नेश कुररिया, डॉ. एसएस दाहिया, डॉ. धीरज धवण्डे, डॉ. अमिता जैन, डॉ. अमृता अग्रवाल, डॉ. अमजद, डॉ. विभोर हजारी एवं श्री विजय पांडे मौजूद थे। बैठक में कलेक्टर ने शासकीय व निजी अस्पतालों के कोरोना वार्ड में बेड आक्यूपेंसी की जानकारी ली। इसके साथ ही उन्होंने वृद्धजन सुरक्षा अभियान के तहत अभी तक चिन्हित बुजुर्ग एवं बीमार व्यक्तियों तथा कोरोना कंट्रोल रूम से उनसे किये जा रहे संपर्क का ब्यौरा भी लिया।

इसे भी पढ़े: अक्टूबर तक वित्तीय घाटा बजट अनुमान के 127 प्रतिशत पर पहुंचा

Related Articles