CM योगी का सख्त आदेश, कोई भी अस्पताल मरीज को वापस नहीं करेगा, सरकार देगी खर्च

मुख्यमंत्री योगी ने निर्देश दिए हैं कि कोई भी अस्पताल मरीज को वापस नहीं करेगा। अगर सरकारी अस्पताल में बेड नहीं है तो निजी अस्पताल में मरीज को भेजा जाएगा और पूरा खर्च राज्य सरकार देगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में प्रदेश में COVID19 के 35,614 नए मामले सामने आए हैं। संक्रमण से 25,633 लोग डिस्चार्ज हुए है। कोरोना के सक्रिय मामलों की कुल संख्या 2,97,616 है। अब तक कुल 11,165 लोगों की मृत्यु हुई है। कल तक प्रदेश में 2,29,578 सैंपल की जांच की गई है।

पर्याप्त मात्रा में रेमडेसिविर

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य ने बोला कि कल से प्रदेश में 2,500 मामले कम आए हैं और टेस्ट की संख्या भी बढ़ी है। अब तक 97,79,846 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग गई है। इनमे से 19,97,363 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज लगी है। रेमडेसिविर (Ramdesvir) दवा भी हमें पर्याप्त मात्रा में मिलने लगी है।

अस्पताल मरीज को वापस नहीं करेगा

यूपी के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल (Navneet Sehgal) ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि कोई भी अस्पताल मरीज को वापस नहीं करेगा। अगर सरकारी अस्पताल में बेड नहीं है तो निजी अस्पताल में मरीज को भेजा जाएगा और पूरा खर्च राज्य सरकार करेगी। प्रदेश में इस वक्त सैनिटाइजेशन का काम चल रहा है।

देश में कोरोना का हाल

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस COVID-19 के 3,49,691 नए मामले आने के बाद कुल  कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मामलों की संख्या 1,69,60,172 हुई है। संक्रमण से 2,767 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,92,311 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 26,82,751 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,40,85,110 है।

ICMR के आंकड़े

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक, भारत में कल तक कोरोना वायरस (Corona virus) के लिए कुल 27,79,18,810 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 17,19,588 सैंपल कल टेस्ट किए गए है।

यह भी पढ़ेMahavir Jayanti 2021: जानिए क्यों नहीं करना चाहते थे महावीर शादी, 30 वर्ष की आयु में राज वैभव का त्याग

Related Articles

Back to top button