बंदूक नियंत्रण को लेकर शिकागो में विद्यार्थियों ने निकाली रैली

0

शिकागो। फ्लोरिडा के एक स्कूल में हुई गोलीबारी में जीवित बचे विद्यार्थियों ने शिकागो में एक रैली का नेतृत्व किया। रैली का उद्देश्य बंदूक पर अधिक नियंत्रण और अमेरिकी नागरिकों को मत पंजीकरण के लिए प्रोत्साहित करना था। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, शुक्रवार के विरोध प्रदर्शन में जिन लोगों ने हिस्सा लिया, उनमें एम्मा गोंजालेज और कैमरन कास्की शामिल थे। पार्कलैंड स्थित मेजॉरिटी स्टोनमैन डगलस हाईस्कूल के ये दोनों विद्यार्थी व्यापक बंदूक नियंत्रण के लिए युवाओं के एक आंदोलन के चेहरा बन गए हैं।

इन विद्यार्थियों के अभियान की शुरुआत 14 फरवरी को स्टोनमैन डगलस में हुई गोलीबारी के बाद हुई है, जिसमें एक 19 वर्षीय हमलावर ने 14 विद्यार्थियों और तीन स्टाफ सदस्यों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। रैपर विलियम और चांस द रैपर तथा अभिनेत्री व गायिका जेनिफर हडसन रैली में भाग लेने वालों में प्रमुख रूप से शामिल थे। अरिजोना की पूर्व डेमोक्रेट कांग्रेस सदस्या गैब्रिएल जिफोर्ड्स जैसे बंदूक नियंत्रण के पैरोकार भी रैली में उपस्थित थे। जिफोर्ड्स पर 2011 में एक जानलेवा हमला हुआ था, जिसमें उनके मस्तिष्क में चोट आई थी।

विरोध प्रदर्शन के दौरान शिकागो के विद्यार्थियों के एक समूह ने पिछले 12 महीनों के दौरान शहर में बंदूक हिंसा के शिकार हुए 21 वर्ष तक उम्र के 147 लोगों के नाम पढ़कर सुनाए। इस रैली के अवसर पर पार्कलैंड के विद्यार्थियों ने ‘मार्च फॉर ऑवर लिव्स : रोड टू चेंज’ नामक बस यात्रा की शुरुआत की, जो इस गर्मी में अमेरिका के दर्जनों शहरों में जाएगी। इसका उद्देश्य सख्त बंदूक नियंत्रण कानून हासिल करना और मतदाता पंजीकरण है।

loading...
शेयर करें