सरकारी स्कूलों को लेकर केंद्र का बड़ा फैसला, अब बच्चे तय करेंगे शिक्षकों की परफॉरमेंस

0

देहरादून। सरकारी स्कूलों में बच्चों के उज्जवल भविष्य को लेकर एक बार फिर राज्य सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। बच्चों के अभिवावकों को अब सरकारी स्कूलों में पढ़ाने के लिए कोई मलाल नहीं होगा। यहां कक्षा एक से आठवीं तक के बच्चों को कितना पढ़ाया जाना है और कितना सिखाना है इसके लिए उन्हें ब्रोशर के जरिए सिलेबस की पूरी जानकारी दी जाएगी।

also read : अब हरिद्वार रेलवे स्टेशन भी बनेगा समार्ट, लागू हो गया ये…

शिक्षकों की परफॉरमेंस

दरअसल, सरकार स्कूलों में बच्चों के सीखने की परफॉरमेंस को टीचरों की परफॉरमेंस से जोड़ने जा रही है। इसके मुताबिक, अब बच्चे ये तय करेंगे कि टीचर कैसा पढ़ा रहे हैं। निशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार (आरटीई) में संशोधन करने के लिए राज्य सरकार ये कदम उठा रही है।

अगली स्लाइड में पढ़ें, सरकारी स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था पर कई बार उठी अंगुली

loading...
1
2
3
4
शेयर करें