IPL
IPL

सुब्रता रॉय को लगा एक और झटका, सेबी ने रद्द किया ये रजिस्ट्रेशन

नई दिल्ली: सहारा इंडिया फाइनेंशियल कॉरपोरेशन लिमिटेड पर आफ्त के बदल अभी घटे नहीं है, सहारा प्रमुख सुब्रता रॉय (Subrata Roy) को सेबी से एक और झटका लगा है। पूंजी बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) ने बुधवार को सहारा इंडिया फाइनेंशियल कॉरपोरेशन लिमिटेड का सब-ब्रोकर का लाइसेंस निरस्त कर दिया। SEBI ने ये फैसला कंपनी को इस काम के लिए कई कसौटियों पर परखने के बाद लिया है। सेबी ने वर्ष 2018 में एक विशेष अधिकारी को इस जांच की जिम्मेदारी सौंपी थी। उस अधिकारी को यह जांच करना था कि क्या सहारा इंडिया फाइनेंशियल ने बिचौलिये का काम करने वाली इकायों के लिए तय नियमनों का उल्लंघन किया है।

जांच रिपोर्ट में नहीं पाया गया सही

जांच रिपोर्ट के मुताबिक, सुब्रत रॉय सहारा के पिछले कार्यो और उनकी कंपनियों के खिलाफ न्यायिक फैसलों को देखते हुए सहारा इंडिया फाइनेंशियल सब-ब्रोकर के तौर पर काम करने के लिये सही नहीं पाया गया है। सेबी ने अपने आदेश में कहा है कि सुब्रत रॉय सहारा इंडिया फाइनेंशियल में बड़े शेयरधारक हैं। इसके आगे सेबी ने कहा उसका यह कर्तव्य है की सिक्योरिटीज मार्केट की सुचिता को बनाये रखने के लिए उस बाजार में काम करने वाले मध्यस्थों पर ‘‘सही एवं उपयुक्त’’ इकाई के मान मानदंड की दृष्टि से लगातार निगरानी रखे।

ये भी पढ़ें : अपने समकक्षी इस देश के नेता के साथ बैठक कर पीएम मोदी करेंगे इन मुद्दों पर चर्चा

नोटिस के तहत

आदेश के अनुसार, ‘‘प्रतिभूति बाजार पर नजर रखने और निवेशकों के हितों की सुरक्षा की अपनी जिम्मेदारी के चलते सेबी नोटिस के तहत ली गई सहारा इंडिया फाइनेंसियल के एक बड़े शेयरधारक। प्रवर्तक के खिलाफ की गई कार्रवाइयों को ध्यान में रखते हुए इस बात को हल्के में न लें। नोटिस के तहत ली गई सहारा इंडिया फाइनेंशियल बाजार में मध्यस्थ का कारोबार करने वाली इकाइयों से संबंधी नियमनों के अनुसार कोई ‘सही और सचुचित’ इकाई नहीं है।

ये भी पढ़ें : DL के लिए RTO ऑफिस के चक्कर लगाकर हो गए है परेशान, अब घर बैठे मिलेगा समाधान

Related Articles

Back to top button