आम तोड़ने की इतनी बड़ी सज़ा, जान देकर बच्चे को चुकानी पड़ी कीमत

0

खगड़िया। बिहार के खगड़िया जिले के गोगरी थाना क्षेत्र में गुरुवार को एक बच्चे को बगीचे से आम तोड़ने की सजा अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। आम तोड़ने से गुस्साए बगीचे की रखवाली करने वाले शख्स ने 12 वर्षीय बच्चे की गोली मारकर हत्या कर दी।

पुलिस के अनुसार, “शेरगढ़ गांव के रहने वाले विभूति यादव का 12 साल का बेटा सत्यम कुमार गांव के पास ही बगीचे में आम तोड़ने गया था। रमा यादव उस बगीचे की रखवाली कर रहा था। सत्यम के आम तोड़ने से नाराज रमा ने उसे गोली मार दी, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।”

ग्रामीणों के मुताबिक गांव के लोगों ने आरोपी को पकड़ने की कोशिश की लेकिन वह फरार हो गया। गोगरी के थाना प्रभारी दीपक कुमार ने बताया, “शव को पोस्टमार्टम के लिए खगड़िया के सदर अस्पताल भेज दिया गया है और आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।” घटना के बाद से रमा का पूरा परिवार फरार हो गया। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

loading...
शेयर करें