नेपोटिज्म पर बोले एक्टर अध्ययन सुमन, कहा- इसमें ऑडियंस भी शामिल

मुंबई: आप तो जानते ही हैं कि इन दिनों बॉलीवुड में नेपोटिज्म का मुद्दा उठा हुआ है और हर कोई इसी विषय में बात कर रहा है. अब इसी बीच एक्टर अध्ययन सुमन ने अपने बॉलीवुड करियर को लेकर बात की. हाल ही में उन्होंने कई चौकाने वाले खुलासे किए हैं. उन्होंने बताया कि किस तरह एक स्टार किड को भी बहुत कुछ इंडस्ट्री में झेलना पड़ता है. जी दरअसल उनके अनुसार स्टार किड होते हुए काम न मिलना काफी डिप्रेसिंग होता है.

उन्होंने आगे कहा कि, ‘कहीं न कहीं केवल एक स्टार या एक्टर को ही ब्लेम नहीं करना चाहिए. ऑडियंस भी इसमें शामिल होती है. सच यह है कि ऑडियंस भी नेपोटिज्म फैलाने वाले लोगों का सपोर्ट करती है. तभी तो ये लोग बड़े बनते हैं और माफिया गैंग चलाने लगते हैं.’

इसके अलावा उन्होंने कहा कि, ‘मैं खुद इस गैंग का कहीं न कहीं हिस्सा रहा हूं. हालांकि, मैं उस व्यक्ति का नाम नहीं लेना चाहता. हां, यह जरूर बताना चाहता हूं कि वह मेरे से मिला, अपना पर्सनल नंबर भी दिया. लेकिन मेरे फोन का उसने आज तक जवाब नहीं दिया. तो समझिए कि ऐसा नहीं होता कि आप आउटसाइडर हैं, इसलिए आपका फोन नहीं उठाया जाता.

मेरे पिता ने अपनी जिंदगी में बहुत कुछ अचीव किया है. लेकिन उनके नाम से भी किसी ने मेरा फोन नहीं उठाया, मुझे काम नहीं दिया. मेरे पास नौ साल तक काम नहीं था और इन सालों में किसी ने मेरा फोन नहीं उठाया. 2011 से 2015 तक मैं डिप्रेशन से जूझ रहा था.’

 

एक्टर के बारे में बात करें तो उन्होंने कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया है लेकिन वह आज तक इंडस्ट्री में बेहतरीन मुकाम हासिल नहीं कर पाए हैं.

Related Articles